दृष्टिहीन नाबालिग ने आवाज से की बलात्कारी की पहचान, चार साल बाद युवक को मिली सजा

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में एक ऐसा मामला समाने आया है जिसे सुनकर आपका दिल दहल जाएगा। मुंबई के साकीनाका इलाके में 34 साल की युवती के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है, जिसने राजधानी दिल्ली में हुए निर्भया कांड की याद दिला दी है। इस दरिंदगी के बाद युवती की हालत गंभीर बताई जा रही है। इस पूरे मामले में मुंबई पुलिस ने अब तक केवल एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने शुक्रवार को कहा कि साकीनाका में एक टेंपो के अंदर इस युवती से पहले रेप किया गया और फिर उसपर बेरहमी से हमला किया गया। इस घटना ने सभी को 2012 के ‘निर्भया’ मामले की याद दिलादी। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि घटना के कुछ ही घंटे बाद 45 साल के आरोपी मोहन चौहान को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं महिला की हालत अभी गंभीर बताई जा रही है।

अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार तड़के पुलिस नियंत्रण कक्ष को फोन आया कि खैरानी रोड पर एक व्यक्ति एक महिला की पिटाई कर रहा है। महिला का पता लगाने के लिए पुलिस टीम मौके पर पहुंची। खून से लथपथ महिला को नगर निगम संचालित राजावाड़ी अस्पताल ले जाया गया।

उन्होंने कहा कि प्रारंभिक जांच के अनुसार, उसके साथ बलात्कार किया गया था और उसके निजी अंगों में लोहे की रॉड से हमला किया गया था, उन्होंने कहा कि यह घटना सड़क किनारे खड़े एक टेंपो के अंदर हुई थी। वाहन के अंदर खून के धब्बे मिले हैं। अधिकारी ने बताया कि डॉक्टरों के मुताबिक महिला की हालत गंभीर है।

उन्होंने कहा कि कुछ सुरागों पर कार्रवाई करते हुए आरोपी चौहान को आईपीसी की धारा 307 (हत्या का प्रयास) और 376 (बलात्कार) के तहत गिरफ्तार किया गया और आगे की जांच जारी है।

बता दें कि दिसंबर 2012 में देश की राजधानी दिल्ली में चलती बस के अंदर एक युवती से निर्दयता से गैंगरेप किया गया और बाद में उसपर बर्बारता से हमला किया गया। जिसके बाद ‘निर्भया’ कहा गया। इस घटना के बाद पूरे देश में आक्रोश फैल गया था। कई दिनों तक जिंदगी से संघर्ष के बाद निर्भया की मौत हो गई थी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button