गरूड़ एप में एंट्री पूरी करने पर बीएलओं को मिलेंगे पांच सौ रूपए

मतदान केंद्रों में आवश्यक सुविधाएं सुनिश्चित करने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने ली बीएललो की बैठक

रायपुर, 25 नवम्बर 2021 : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबा साहेब कंगाले ने बुधवार को राज्य में मतदान केंद्रों में सुविधाएं सुनिश्चित करने और गरूड़ ऐप की प्रगति की समीक्षा के लिए राज्य के बूथ लेवल ऑफिसर्स (बीएलओ) प्रतिनिधयों की बैठक ली। उन्होंने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग की ओर से विकसित डिजिटल एप गरूड़ को मतदाताओं की सुविधा के लिए विकसित किया गया है।

सभी बीएलओ को निर्वाचन आयोग के डिजिटल प्लटफार्म पर जानकारियां देने, गरूड़ ऐप डाउनलोड करने और बूथ के एएमएफ (एश्योर्ड मिनिमम फेसेलिटी) की जानकारी को पूरा करने पर 500 रूपए वन टाईम डेटा रिचार्ज के लिए मानदेय मिलेगा। इस संबंध में सभी कलेक्टरों को निर्देश दिए गए हैं।

कंगाले ने बताया कि बीएलओ को गरूड़ एप में बूथ में स्वच्छ पेयजल, शौचालय, रैम्प जैसी आवश्यक सुविधाओं की फोटो अपलोड करनी है, जिससे मतदाताओं के लिए बूथ में सभी आवश्यक सुविधाएं मुहैय्या करायी जा सकें। भारत निर्वाचन आयोग ने सभी आवश्यक जानकारी फीड करने के लिए 30 नवम्बर तक समय दिया है। निर्वाचन का काम सर्वाधिक महत्व का काम है। निर्वाचन पूर्व तैयारी और मतदान केंद्रों पर नागरिकों के लिए न्यूनतम सुविधाएं दी गई जानकारी के आधार पर ही सुनिश्ति की जानी है, इसलिए सभी बीएलओ निर्घारित समय सीमा में सभी एन्ट्री करना सुनिश्चित करें।

कंगाले ने बीएलओ से उनकी समस्याओं पर बातचीत करते हुए उनका समाधान किया और बताया कि गरूड़ एप मोबाइल में 10 एम.बी. से भी कम स्पेस लेता है। इसे आसानी से अपलोड किया जा सकता है। ऐसी जगह जहां नेटवर्क की समस्या हो वहां भी एप के माध्यम से फोटो लेने पर नेटवर्क आने पर फोटो अपलोड हो जाएगी। इस पर उपस्थित सभी बीएलओ प्रतिनिधियों ने तीन दिन में एप में जानकारी सकारात्मक रूप से पूरा करने का आश्वासन दिया है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button