छत्तीसगढ़

बोर्ड की परीक्षा 5 मार्च से

यह परीक्षा 2 अप्रैल तक चलेगी

कोरिया : छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा आयोजित 10वी और 12वी कक्षाओं की बोर्ड परीक्षा आगामी महीने की 5 तारीख से प्रांरभ हो रही है। यह परीक्षा 2 अप्रैल तक चलेगी। इस परीक्षा में जिले के 16 हजार 562 परीक्षार्थी शामिल होगें। इनमें हाईस्कूल के 9 हजार 961 और हायरसेकेण्डरी स्कूल के 6 हजार 601 परीक्षार्थी शामिल है।

इस परीक्षा के लिए जिले में 60 परीक्षा केन्द्र बनाये गये है। जिनमें 9 संवेदनशील और 2 अतिसंवेदनशील परीक्षा केंद्र शामिल है। परीक्षा सुबह 9 बजे से प्रांरभ होकर दोपहर 12.15 बजे तक चलेगा।

इस हेतु कलेक्टर नरेंद्र कुमार दुग्गा ने परीक्षा केंद्र में परीक्षार्थियों के लिए पर्याप्त फर्नीचर, पेयजल और प्रकाश एवं स्वच्छ शौचालय की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए सभी केन्द्राध्यक्षों को निर्देष दिये है। इसी तरह कलेक्टर दुग्गा ने बोर्ड परीक्षाओं के सुचारू संचालन के लिए उड़नदस्ता दलों का गठन किया है।

परीक्षा के दौरान परीक्षा केन्द्रो में परीक्षार्थियों की आकस्मिक स्वास्थ्य खराब होने पर उन्हें तत्काल चिकित्सकीय सहायता उपलब्ध कराने के लिए चिकित्सक भी मौजूद रहेगें। उन्होने कहा है कि जिस दिन जिस विशय की परीक्षा का आयोजन होगा। उसी विशय के प्रश्न पत्र संबंधित पुलिस थानों से निर्धारित समय पर परीक्षा केंद्र तक पहुंचाया जायेगा।

परीक्षा संपन्न होने के बाद निर्धारित समय सीमा में उत्तर पुस्तिकाएं संग्रहण केंद्र में जमा कराई जायेंगी। परीक्षा में नकल रोकने के लिए गठित उडनदस्ता दल द्वारा प्रतिदिन सघन जांच की जायेगी। उन्होने बताया कि मण्डल द्वारा बोर्ड परीक्षाओं में किसी भी प्रकार के मोबाईल एवं उससे संबंधित डिवाईस प्रतिबंधित किये गये है।

जिसका पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये है। उन्होने विकासखंड मनेन्द्रगढ के परीक्षा केंद्र पसौरी एवं बिहारपुर तथा विकासखंड भरतपुरर के परीक्षा केंद्र रामगढ, बडगांवकला, देवषिल एवं रौंक में परीक्षार्थियों के लिए निःशुल्क परिवहन की व्यवस्था स्थानीय स्तर पर सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिये है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
बोर्ड की परीक्षा 5 मार्च से
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.