मेरे जीवन पर अगर बायोपिक बनी तो कोई नहीं जाएगा देखने : रणबीर कपूर

मुंबई : संजय दत्त के जीवन पर आधारित फिल्म संजू का टीजर सबके सामने आ चुका है। इसमें रणबीर संजय दत्त की भूमिका में नजर आ रहे हैं। लेकिन बात जब रणबीर की बायोपिक की हुई तो खुद रणबीर ने यह बात कही कि उनके जीवन पर फिल्म को कोई नहीं देखना चाहेगा।

रणबीर कपूर ने मुंबई में फिल्म संजू के टीजर लांच के मौके पर उनकी खुदकी जीवनी पर फिल्म को लेकर बात की। रणबीर कपूर ने संजय दत्त की जीवनी पर बनी फिल्म संजू के टीजर लांच करते हुए कहा कि उनके जीवन पर अगर कभी कोई बायोपिक बनी तो कोई नहीं करना चाहेगा. इस बारे में बताते हुए रणबीर कपूर ने कहा, ‘मेरी जिंदगी मुझे इंस्पायरिंग नहीं लगती.

कोई मेरी लाइफ पर बायोपिक बनाता है तो मुझे कोई इशू नहीं है लेकिन मुझे लगता है वह नहीं चलेगी.’ आपको बता दें कि, इस अवसर पर रणबीर कपूर से जब संजय दत्त के अंदाज में बात करने के लिए कहा गया तो उन्होंने कहा कि जब वह फिल्म कर रहे होते हैं, तो वह फिल्म का पात्र होते हैं इसलिए वैसा करते हैं लेकिन कार्यक्रम में ऐसा कर उनकी नकल नहीं उतारना चाहते, जोकि गलत बात होगी. रणबीर कपूर ने आगे कहा कि वह हमेशा से ही संजय दत्त से प्रेरित है और हमेशा संजय दत्त का रोल निभाना चाहते थे।

रणबीर ने यह भी कहा कि शुरुआत में संजय दत्त की भूमिका निभाना उनके लिए आसान नहीं था लेकिन बाद में धीरे-धीरे वह इससे अभ्यस्त हो गए. फिल्म के निर्माता विधु विनोद चोपड़ा ने यह कहा कि रणबीर कपूर से एक बार फोन पर बात करते वक्त रणबीर ने कहा था कि कुछ भी करने को कहना लेकिन संजय का रोल करने को मत कहना।

निर्देशक राजकुमार हिरानी ने बताया कि जब संजय दत्त ने उन्हें यह बताया कि बराक ओबामा उन्हें मुन्ना भाई के नाम से जानते हैं, तो उन्हें विश्वास नहीं हुआ और उन्होंने यह देखा की घड़ी में कितने बजे हैं।

कही संजय ने ज्यादा तो नहीं पी ली है लेकिन बाद में यह पता चला कि जब बराक ओबामा अमेरिका के राष्ट्रपति नहीं थे और वह एक प्रांत के राज्यपाल थे, तब संजय दत्त की उनकी मुलाकात हुई थी और भारतीय लोग संजय दत्त को वहां पर देखकर उसी समय मुन्नाभाई रिलीज होने के कारण उन्हें मुन्ना भाई मुन्ना भाई कहकर बुला रहे थे और यह देखकर बराक ओबामा उन्हें मुन्ना भाई के नाम से जानने लगे।

Back to top button