जीनत अमान ने बिजनेसमैन पर लगाए पीछा करने और धमकाने के आरोप, पुलिस जांच में जुटी, आरोपी फरार

'सत्यम शिवम सुंदरम' और 'कुर्बानी' जैसी फिल्मों में नजर आ चुकीं अपने जमाने की बोल्ड एक्ट्रेस जीनत अमान ने मुंबई के एक कारोबारी के खिलाफ पीछा करने और धमकाने के आरोप लगाए हैं.

नई दिल्ली: ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ और ‘कुर्बानी’ जैसी फिल्मों में नजर आ चुकीं अपने जमाने की बोल्ड एक्ट्रेस जीनत अमान ने मुंबई के एक कारोबारी के खिलाफ पीछा करने और धमकाने के आरोप लगाए हैं.

मशहूर एक्ट्रेस जीनत अमान इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी है और पुलिस ने इन आरोपों की जांच भी शुरू कर दी है और बताया जा रहा है कि बिजनेसमैन फरार है. इस बात की जानकारी न्यूज एजेंसी एएनआई ने एक ट्वीट करके दी है और उसके बाद से मामला गर्मा गया है.

एएनआई ने अपने ट्वीट में लिखा हैः बॉलीवुड एक्ट्रेस जीनत अमान ने मुंबई के बिजनेसमैन के खिलाफ पीछा करने और धमकाने की शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है, और बिजनेसमैन फरार है.

यूं फिल्मों में आईं जीनत अमान

19 नवंबर, 1951 को मुंबई में जन्मीं जीनत के पिता अमानुल्लाह खान एक लेखक थे. जीनत उस वक्त 13 साल की थीं, जब पिता की मौत हो गई. उनकी मां सिदा ने कुछ समय बाद जर्मनी निवासी हेंज से शादी कर ली और उसके बाद जीनत जर्मनी चली गईं.

लॉस एंजेलिस में ग्रेजुएशन अधूरी छोड़ वे भारत लौट आईं. जीनत ने अंग्रेजी पत्रिका ‘फेमिना’ में एक पत्रकार के तौर पर काम शुरू किया और बाद में मॉडलिंग का रुख किया. 1970 में मिस एशिया पेसिफिक का खिताब जीतने के बाद जीनत का फिल्मी करियर शुरू हुआ.

इस तरह जीता फिल्मफेयर अवार्ड

ओपी रल्हन की ‘हलचल’ और ‘हंगामा’ (1971) के असफल होने के बाद निराशा से भरी जीनत उस जर्मनी लौटने के लिए तैयार थीं, लेकिन इसी दौर में देव आनंद ने उन्हें एक फिल्म का ऑफर दिया. 1971 में आई ‘हरे रामा हरे कृष्णा’ में जेनिस उर्फ जसबीर के किरदार और ‘दम मारो दम’ गीत ने जीनत को रातोरात सुर्खियों में ला दिया.

1978 में आई फिल्म ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ में निभाए किरदार के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का फिल्मफेयर पुरस्कार मिला. जीनत ने 1985 में अभिनेता मजहर खान से शादी की, लेकिन उनका वैवाहिक जीवन सुखद नहीं रहा.

advt
Back to top button