चंडीगढ़ जिला अदालत के एडवोकेट चैंबर में मिली बुकलेट, अशोक चौहान ने की पुष्टि

एसोसिएशन अपने स्तर पर जांच में लगा

चंडीगढ़: चंडीगढ़ जिला अदालत के एडवोकेट चैंबर में दरवाजे के पास नीचे फर्श पर एक ब्लैक स्पॉट आन ज्यूडिशियरी नाम की बुकलेट पड़ी मिली. इसके बाद उस बुकलेट को उठाकर पढ़ा जिसमे लिखा था कि बाबा रामपाल को सजा देकर उनके साथ और उनके अनुयायियों के साथ न्याय नहीं किया गया.

चंडीगढ़ जिला अदालत बार एसोसिएशन प्रधान अशोक चौहान ने की पुष्टि. हालांकि, इस मामले में किसी भी एडवोकेट या जिला अदालत बार एसोसिएशन की तरफ़ से पुलिस में कोई शिकायत नही दी गई. एसोसिएशन अपने स्तर पर जांच में लगा है.

थोड़ी देर बाद ही कई वकीलों ने उनके चैंबरों में भी यही बुकलेट पड़े होने की सूचना दी. वे हैरान हैं कि कैसे कोई आकर बुकलेट रखकर चला जाता है. वकीलों ने बताया कि अभी तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई. इसके अलावा पुलिस को शिकायत नहीं दी गई.

बुकलेट के कवर पर जज का नाम लिखा हुआ है. बरामद बुकलेट के कवर पर हिसार स्पेशल कोर्ट के जज डीआर चालिया का नाम लिखा हुआ है. गौरतलब है जज डी आर चालिया ने ही सतलोक आश्रम प्रकरण से जुड़े हत्या और षड्यंत्र के मामले में कथित संत रामपाल और अन्य को दोषी करार देते हुए सज़ा सुनाई थी.

Back to top button