मनोरंजन

किताब “दीदी और मैं ” 90 वीं वर्षगांठ का तोहफा: लता मंगेशकर

लता मंगेशकर ने किताब का हिंदी संस्करण रिलीज किया

मुंबई: 28 सितंबर को पिछले 70 दशकों से सूर साम्राज्ञी भारत रत्न लता मंगेशकर 90 वर्ष की हो गई है. इस अवसर पर लता मंगेशकर ने रविवार को “दीदी और मैं “नामक किताब को रिलीज किया.

मंगेशकर जी का कहना है कि किताब “दीदी और मैं “उनकी 90 वीं वर्षगांठ का तोहफा है. इस किताब में बचपन की खूबसूरत, साथ ही खट्टी मीठी यादों का समावेश किया गया है. किताब लिखने में उषा मंगेशकर ने भी मेरी काफी मदद की है.

उन्होने कहा कि इस किताब के साथ बचपन की वह स्मृतियां आंखों के सामने आ गई है जो कि वक्त के साथ धुंधली हो गई थी. रविवार की शाम को घर परिवार के सदस्यों के बीच लता मंगेशकर जी ने इस किताब को लांच किया. आपको बता दें कि यह पुस्तक उनकी बहन मीना मंगेशकर खादिलकर द्वारा लिखी गई है.

लता मंगेशकर ने किताब का हिंदी संस्करण रिलीज किया. लता मंगेशकर के जन्म दिवस के मौके पर घर परिवार के सदस्य उनके घर प्रभु कुंज पर इकट्ठे होकर उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं दी थी.

लता मंगेशकर के जन्मदिन के खास मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें शुभेक्षा देते हुए संदेश भेजा था जिसे मराठी कलाकार सुमित राघवन ने प्रस्तुत किया. अपने संदेश में भारत रत्न लता मंगेशकर द्वारा संगीत क्षेत्र में किए गए अप्रतिम कार्य की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें दीर्घायु होने की कामना दी.

संगीत जिनके समक्ष नतमस्तक होता है ऐसी लता मंगेशकर को ढेर सारी शुभकामनाएं दी. पीएम मोदी का यह संदेश मराठी कलाकार सुमित राघवन ने पढ़ा था.

Tags
Back to top button