बॉक्स ऑफिस : पहले दिन इतनी हो सकती है ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ की कमाई

इसके सामने विक्की कौशन की फिल्म 'उरी' रिलीज हो रही है और इसके रिव्यू काफी अच्छे आ रहे हैं।

विवादित फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ कल यानी शुक्रवार को रिलीज हो रही है। भारत में इसे 1300 स्क्रीन्स मिल रही हैं, और विदेश में 140। आशंका है कि कुछ राज्यों में इसे लगने नहीं दिया जाएगा।

और इसका सीधा असर कमाई पर होगा। जानकार मान रहे हैं कि पहले दिन इसकी कमाई दो करोड़ के करीब हो सकती है। जिस स्तर पर इसकी चर्चा है, यह आंकड़ा काफी कम दिख रहा है।

यह भी गौर करने वाली बात है कि इसके सामने विक्की कौशल की फिल्म ‘उरी’ रिलीज हो रही है और इसके रिव्यू काफी अच्छे आ रहे हैं।

लोग इसकी तारीफ कर रहे हैं। अभी तक ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ को मीडिया को नहीं दिखाया गया है तो इसके रिव्यू नहीं आए हैं।

बता दें कि, इसका तेलुगु और तमिल वर्जन 18 जनवरी को रिलीज होगा। अंग्रेजी की तारीख अभी तय नहीं है। इस फिल्म में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की भूमिका में अनुपम खेर हैं।

फिल्म का निर्देशन विजय रत्नाकर गुट्टे ने किया है। फिल्म में अक्षय खन्ना, संजय बारू की भूमिका निभा रहे हैं जो कि पूर्व प्रधानमंत्री के मीडिया सलाहकार थे। बारू की किताब पर इस फिल्म को बनाया गया है।

विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहे। फिल्म में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की भूमिका निभाने वाले अभिनेताअनुपम खेर और अक्षय खन्ना सहित अन्य कलाकारों के खिलाफ बिहार के मुजफ्फरपुर की एक कोर्ट में शिकायत दर्ज की गई है।
शिकायत में आरोप लगाए गए हैं कि, फिल्म के जरिए देश के कई बड़े राजनेताओं की छवि खराब करने की कोशिश की गई है।

फिल्म को लेकर उठ रहे सवालों के जवाब देने के लिए अनुपम खेर ने भी पिछले दिनों एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। उन्होंने कहा था कि, फिल्म को संजय बारू की किताब में लिखे गए फैक्ट्स पर बनाया गया है।

फिल्म पर हो रही कंट्रोवर्सी पर अक्षय खन्ना ने कहा था कि, ‘जब आप किसी राजनीत‍िक व‍िषय पर फिल्म बनाएंगे तो उस पर कई तरह की बातें होंगी।

सच्ची घटनाओं पर बनने वाली फिल्म पर लोगों के र‍िएक्शन आना स्वाभाविक है। हमारे लिए निराशा की बात तब होती जब ट्रेलर पर कोई प्रत‍िक्र‍िया नहीं आती।

मैं विरोध कर रहे लोगों से बस इतना कहना चाहता हूं कि, यह सिर्फ एक फिल्म ही है, कोई सुनामी या फिर भूकंप नहीं है।’

फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के ट्रेलर में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की कार्यकाल के दौरान हुए राजनैतिक बदलाव और उस समय की राजनीतिक स्थित को दर्शाया गया है।

खास तौर पर शुरुआत इस बात से की जाती है कि महाभारत में दो परिवार थे लेकिन भारत की राजनीतिक परिस्थिति में सिर्फ एक परिवार है।

डॉ. मनमोहन सिंह को भीष्म पितामह की संज्ञा दी गई है जिनमें कोई बुराई नहीं है। लेकिन सोनिया गांधी ने ही डॉ. मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री पद के लिए चुना था।

इसके बाद क्या-क्या हुआ यह ट्रेलर बयां करता है। इस बात को कहने की कोशिश की गई है कि डॉ. मनमोहन सिंह पार्टी के प्रेशर के चलते अपने निर्णय स्वतंत्र होकर नहीं ले पाते थे।

1
Back to top button