राज्य

लड़के ने लिखा- अगर महिलाएं मेरा यौन शोषण करें तो मजा आएगा, मां ने दिया करारा जवाब

दुनिया भर में यौन शोषण और छेड़खानी के खिलाफ महिलाएं आवाज उठा रही हैं। सोशल मीडिया में इसके खिलाफ अभियान भी चल रहा है। ट्विटर में मी टू नाम का एक कैंपेन चलाया जा रहा है। इसमें यौन शोषण की शिकार महिलाएं अपनी कहानी सोशल मीडिया पर बता रही हैं। भारत में भी ये कैंपने काफी लोकप्रिय हुआ है।

पुणे में हाई स्पिरिट नाम के एक कैफे मैनेजमेंट के खिलाफ कई महिलाएं आगे आईं है। सोशल मीडिया पर सक्रिय कई महिला ब्लॉगर, एक्टिविस्ट इस कैफे के प्रबंधन के खिलाफ यौन शोषण के आरोप लगा रही हैं। लेकिन मामले की गंभीरता को देखकर कई लोग इस मुहिम का मजाक उड़ाने से पीछे नहीं हट रहे हैं।

ऐसे ही एक शख्स ने फेसबुक पर एक पोस्ट किया और लिखा कि इसमें क्या दिक्कत है अगर कुछ महिलाएं मेरे साथ छेड़खानी करती हैं? फिलहाल इस शख्स की पहचान छिपा दी गई है। इस शख्स का फेसबुक पोस्ट कुछ इस तरह है, ‘ मुझे मजा आएगा अगर महिलाएं मेरे साथ छेड़खानी करेंगी, क्या हाई स्पिरिट ये भी ऑफर करता है।’

इस शख्स को सपने में उम्मीद भी नहीं थी कि इस पोस्ट का जवाब उसे उस महिला से मिलेगा जिसने उसे जन्म दिया है। जी हां, इस लड़के के आपत्तिनजक पोस्ट पर जवाब देने उसकी मां सामने आई। इसके बाद उसकी मां ने अपने बेटे के फेसबुक पोस्ट के जवाब में जो लिखा। उसे पढ़कर उस लड़के की अक्ल ठिकाने आ गई। आप भी महिला यौन शोषण के खिलाफ एक मां की टिप्पणी पढ़कर इस मामले की गंभीरत को अलग तरीके से देख पाएंगे। लड़के की मां, जिसकी पहचान छुपा दी गई है, ने लिखा,

‘बेटा मुझे तुमपर गर्व है, लेकिन ऐसे घटिया मजाक पर मैं तुम्हारा कभी समर्थन नहीं करूंगी। यौन शोषण और छेड़खानी एक ऐसी चीज है जिससे हरेक महिला को अपनी जिंदगी में कभी ना कभी झेलना ही पड़ा है, मैं भी इस चीज से गुजरी हूं। तुम बहुत अच्छी तरह से जानते हो कि मैं एक पॉलिटिकल स्टूडेंट थी, लेकिन एक वार्ड या संसदीय क्षेत्र हैंडल करने के बजाय मुझे किचन हैंडल करने दे दिया गया। वो साल 1994 का था। मुझे उन महिलाओं पर बहुत गर्व है जिन्होंने तुम्हारे पोस्ट पर टिप्पणी की है और तुम्हारा विरोध किया है, लेकिन मैं या फिर मेरी जैसी दूसरी महिला ऐसा नहीं कर सकती। मैं भी तुम्हारे इस पोस्ट से काफी आहत हूं और इस महीने के बाकी दिन तुम्हें थाली में खाना सजाकर नहीं दे सकूंगी। मैं इस बारे में तुमसे व्यक्तिगत रूप से बात करना चाहती थी, लेकिन तुम्हें हर चीज फेसबुक पर लिखना पसंद है, इसलिए मैंने सोचा तुम्हें इसी प्लेटफॉर्म पर जवाब हूं। इससे पहले कि तुम अपने पिता से इस बारे में शिकायत करो मैं तुम्हारे पापा को थैंक्स कहना चाहूंगी उन्होंने इस पोस्ट को लिखने में मेरी मदद की। ग्रामर की मेरी गलतियों के लिए सॉरी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button