कुरूद में कृषि कॉलेज का बृजमोहन ने किया शुभारंभ

रायपुर : कुरूद में आवास मड़ई और क्षेत्र के ग्राम चर्रा में नए कृषि महाविद्यालय के शुभारंभ अवसर पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए कार्यक्रम के मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ प्रदेश के कृषि एवं सिंचाई मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि हमारी सरकार पूरी शिद्दत के साथ छत्तीसगढ़ प्रदेश की सेवा में जुटी हुई है। समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति के भी जीवन में खुशहाली का प्रकाश पहुंचे, इसी लक्ष्य के साथ हम काम कर रहे हैं। विशेष रूप से गांव,गरीब और किसानों को प्राथमिकता में रखते हुए उनकी जीवन को समृद्ध बनाने का हमारा प्रयास निरंतर जारी है। जिसका परिणाम भी दिख रहा है। आपका- हमारा यह प्रदेश देश के अग्रणी राज्यों की श्रेणी में शुमार हो रहा है। इस अवसर पर 6 हज़ार परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान प्रदान किये गए।

अपने संबोधन में बृजमोहन ने कहा कि राज्य के विकास के पीछे जागरुक जनप्रतिनिधियों का अहम योगदान है। जब छत्तीसगढ़ राज्य बना उस वक्त यहां 5 कृषि महाविद्यालय से अब 36 महाविद्यालय हो गए हैं। पहले सीटें 300 थी अब 3000 सीटें हो गई है। इंजीनियरिंग से भी ज्यादा विद्यार्थी अब कृषि शिक्षा की ओर बढ़ रहे हैं । इस वर्ष 41000 विद्यार्थियों ने प्रवेश हेतु परीक्षा दी है। उन्होंने कहा कि कृषि शिक्षा की बेहतरी के लिए निरंतर नए-नए प्रयास किए जा रहे हैं। हमारे इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय का नाम भी आज देश के प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय में गिना जाता है।

बृजमोहन कृषि विकास की बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि आज बीज उत्पादन 11लाख क्विंटल है। हमारी सरकार किसानों के प्रति क्विंटल धान खरीदी के साथ 300 रुपए बोनस प्रदान कर रही है। बिजली में किसानों को 17 सौ करोड़ की सब्सिडी प्रदान की जा रही है। प्राकृतिक आपदा में फसल नुकशान के एवज में आरबीसी 6-4 के तहत मुआवजा प्रदान किये जा रहे है। प्रधानमंत्री फसल बीमा के तहत किसानों को लगभग 13 सौ करोड़ मुआवजा प्राप्त हुआ है। जबकि उन्होंने प्रीमियम लगभग डेढ़ सौ करोड जमा किये थे।

अग्रवाल ने उपस्थित किसानों से अपील करते हुए कहा कि समृद्धि के लिए कृषि के साथ-साथ जुड़े हुए अन्य कार्य भी करने होंगे। धान की फसल के अलावा दलहन -तिलहन की खेती भी करनी होगी। इसके साथ ही फल-सब्जी उत्पादन,मछली पालन,मुर्गी पालन,गौपालन करते हुए बेहतर भविष्य बनाते हुए परिवार में खुशहाली लाई जा सकती है। हमारी सरकार इन सभी कार्यों के लिए आप को सहयोग करने तत्पर है।आप आगे बढ़े और योजनाओं का लाभ उठायें।

फल-सब्जी उत्पादन में उपयोगी ड्रिप एरिगेशन सिस्टम पर 70 फीसदी अनुदान सरकार दे रही है। गौपालन(डेयरी) की योजना में 12 लाख पर 50 / 65 फीसदी सब्सिडी प्रदान की जा रही है। इस अवसर पर इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ एसके पाटिल,रघुनंदन साहू,निरंजन सिन्हा,ज्योति चंद्राकर,महेंद्र पंडित,सुरेश अग्रवाल सहित हज़ारों की संख्या में क्षेत्र के किसान व गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

बृजमोहन ने कहा- क्षेत्र के विकास के लिए लड़ जाते है अजय
बृजमोहन अग्रवाल ने कुरूद विधायक एवं सरकार के स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर की सराहना करते हुए कहा कि अपने क्षेत्र के विकास के लिए अजय चंद्राकर हर स्तर तक की लड़ाई लड़ जाते हैं। यही वजह है कि कुरूद विधानसभा क्षेत्र में विकास की गंगा बह रही है। हार्टिकल्चर नर्सरी,हैचरी, माइक्रो एरिकेशन प्रोजेक्ट में सबसे पहले स्वीकृति इसी विधानसभा में मिली है। उन्होंने कहा कि कुरूद विधानसभा की जनता जितनी ताकत अजय चंद्राकर को देगी उतना ज्यादा विकास होगा।

बृजमोहन के भागीरथी प्रयासों से क्षेत्र की सिंचाई व्यवस्था हुई सुदृढ़ – अजय चंद्राकर
दुलना-कोडेबोड़ सूक्ष्म सिंचाई योजना के तहत 1054 हैक्टेयर सिंचाई योजना का उल्लेख करते हुए अजय चंद्राकर ने कहा कि 75 सालों में सिंचाई के क्षेत्र में जो काम नहीं हुआ वह काम बृजमोहन अग्रवाल के सिंचाई मंत्री रहते हुए कर दिया गया है। हर खेत तक पानी पहुंचाने के लक्ष्य में जुटे बृजमोहन अग्रवाल ने कुरूद विधानसभा क्षेत्र की सिंचाई योजनाओं को प्राथमिकता के साथ पूरा किया है।

Back to top button