शाखा प्रबंधक की मनमानी, किसानों को लंबी कतारों में लगने को किया मजबूर

कर्ज के पैसों को लेने पहुंचे लेकिन शाखा प्रबंधक का आराम से आने की वजह से किसानों को लाइनों में लगना पड़ रहा।

कांकेर। कांग्रेस ने वादा किया था कि उनकी सरकार बनने के बाद 10 दिनों के अंदर में किसानों के कर्ज माफ कर दिए जाएंगे। सरकार बन गई और कर्ज भी मांफ हो गया। यहां तक कर्ज की राशि किसानों के खाते में आने लगी।

अब किसान खाते में आने वाली राशि को लेने पहुंचे, लेकिन बैक के सामने लगी लंबी कतारों किसानों के लिए परेशानी की सबब बन गया है। किसान कर्ज के पैसे निकालने बैक खुलने से पहले अपनी- अपनी पारी में कतार में लग जाते हैं, पर बैक शाखा प्रबंधक आराम से 1 बजे तक पहुंचती है।

किसानों से पता चला कि बैक की शाखा प्रंबधक लंबे समय से बैक में पदस्थ है। इसकी वजह से अक्सर मनमानी करती है। वहीं प्रबंधक के इस बर्ताव से परेशान किसान अब विधायक से शाखा प्रबंधक की शिकायत करेंगे।

1
Back to top button