राजिम कुंभ का नाम बदलने पर भड़के बृजमोहन अग्रवाल, मिला ये जवाब

रायपुर।

छत्तीसगढ़ विधानसभा की कार्यवाही गुरुवार तक के लिए स्थगित कर दी गई है. सदन में पूर्व संस्कृति मंत्री और बीजेपी विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने राजिम कुंभ का नाम बदलने पर आपत्ति जताई और सरकार से सवाल पूछा।

पूर्व संस्कृति मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने पूछा कि, ‘राजिम कुंभ को बंद करने और नाम बदलने का फैसला क्यों लिया गया.’ उन्होंने कहा कि, ‘राजिम के धार्मिक महत्व को देखते हुए इसे प्रयागराज का नाम दिया गया था.’ बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि, ‘ये प्रदेश में लगने वाले दूसरे पून्नी मेले से अलग है और आपको राजिम कुंभ नाम से क्या दिक्कत है।

पर्यटन मंत्री ने दिया जवाब

इस पर पर्यटन मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि कुंभ को बंद नहीं किया गया बल्कि नाम बदलकर माघी पुन्नी मेला किया गया है. इस पर अग्रवाल ने फिर सवाल उठाया कि माघी पुन्नी मेला और कितने स्थानों पर लगता है. जिस पर मंत्री ने अलग से जानकारी उपलब्ध कराने की बात कही है.

अमितेश शुक्ल क्या बोले-

वहीं राजिम विधायक अमितेश शुक्ल ने भी कहा कि इस कुंभ को शंकराचार्य ने मान्यता नहीं दी है. पर्यटन मंत्री ने कहा कि रायपुर जिला गजेटियर में पुन्नी मेला का जिक्र है. लेकिन बृजमोहन अग्रवाल ने फिर कहा कि कुंभ का नाम बदलकर मेले का महत्व कम कर दिया गया है.

इसके अलावा सदन में जांजगीर जेल में कैदी की मौत का मामला भी गूंजा. जेसीसीजे विधायक अजीत जोगी ने मरवाही में विकास का मुद्दा उठाया।

Back to top button