छत्तीसगढ़राजनीति

बृजमोहन ने संसदीय सचिव की स्थिति को लेकर की सर्कुलर जारी करने की मांग

सदन में संसदीय सचिवों की नियुक्ति पर विपक्ष ने सवाल खड़े किए

रायपुर:छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र मंगलवार से शुरू हो चूका है। राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए इस सत्र में कई नए उपाय किए गए हैं। छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र मंगलवार 25 अगस्त से शुरू होकर शुक्रवार 28 अगस्त तक होगा।

मानसून सत्र का आज तीसरा दिन है। आज सामान्य कार्रवाई के बाद संसदीय सचिवों की नियुक्ति के मुद्दे पर विपक्ष ने सरकार को घेरा। सड़कों का निर्माण, लोकनिर्माण विभाग में अधिकारियों को कार्यभार समेत कई मुद्दों पर सरकार और विपक्ष आमने सामने नजर आए।

संसदीय सचिवों को लेकर तीखी बहस

सदन में संसदीय सचिवों की नियुक्ति पर विपक्ष ने सवाल खड़े किए। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा- हमारे संसदीय सचिव को लेकर कांग्रेस के लोग कोर्ट गए थे। सुप्रीम कोर्ट में मामला लंबित है, फिर भी आपने नियुक्ति की, संसदीय सचिवों का स्टेटस क्या है? क्या उनके अधिकार है? इस पर जानकारी दी जानी चाहिए।

संसदीय सचिव को लेकर पूरे प्रदेश में भ्रम की स्थिति है. वे खुद भी भ्रमित हैं । पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने संसदीय सचिव की स्थिति को लेकर सर्कुलर जारी करने की मांग की। अजय चंद्राकर ने नियुक्ति पर सवाल उठाया। विधि मंत्री मोहम्मद अक़बर ने जवाब में कहा- उच्च न्यायालय के निर्देश आए हैं, उनका पालन किया गया है।

विधायकों के अधिकार के बारे में नियमावली में है। संसदीय सचिव को उत्तर देने का अधिकार नहीं है। केवल सहायता के नियुक्त किया गया है। जो मामला सुप्रीम कोर्ट में लंबित है उस पर चर्चा नहीं हो सकती। संसदीय सचिव को विधानसभा के कार्यों में मंत्रियों को सहयोग करना है। संसदीय सचिवों को मंत्रियों के साथ काम करना है उनका परिचय हो गया है।

गिरौदपुरी का मुद्दा भी उठा

भाजपा विधायक पुन्नूलाल मोहले ने प्रश्नकाल के दौरान बलौदा बाजार के गिरौदपुरी धाम में राष्ट्रपति के आगमन के दौरान दर्शन एवं सार्वजनिक भवन निर्माण के कार्यों के शिलान्यास का मुद्दा उठाया। मोहले ने पूछा कि इसके लिए कितनी राशि स्वीकृत की गई ? अभी तक कितने निर्माण कार्य प्रारंभ हुए ? नहीं हुए तो क्यों नहीं हो पाए ?

जवाब में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने जानकारी दी कि राष्ट्रपति ने भूमि पूजन किया था। राशि 2 करोड़ 50 लाख इसके लिए स्वीकृत की गई थी, नींव खुदाई का काम प्रगति पर है। इस पर पुन्नूलाल मोहले ने पूछा कि किस राष्ट्रपति ने किसका भूमि पूजन किया था?

गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि जो भी जानकारी विधायक मांग रहे हैं, उन्हें उपलब्ध करा दूंगा। इस बीच जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के विधायक धर्मजीत सिंह ने कहा कि भारत में गिने-चुने राष्ट्रपति तो हुए, कौन राष्ट्रपति छत्तीसगढ़ आया था, अगर यह भी नहीं बता पाएंगे तो दुर्भाग्य है।

छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ चरण दास महंत ने कहा कि कोविड-19 टेस्ट की व्यवस्था विधानसभा में की गई है जो विधायक जांच कराना चाहे वह करा सकते हैं। दरअसल कोरोना संक्रमण के इस दौर में हो रही विधानसभा की कार्रवाई में काफी सावधानियां बरतीं जा रही हैं। इस बार विधायकों की सीट पर कांच से पार्टिशन तैयार किया गया है। मास्क, स्कैनिंग और सैनिटाइजेशन के बंदोबस्त भी हैं। बुधवार की सुबह हल्की नोंक-झोंक के साथ शुरू हुई विधानसभा की कार्रवाई जारी रही।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button