कोविड-19 से जंग जीतता दिख रहा ब्रिटेन, 24 घंटे में महज एक ही व्यक्ति की मौत

बीते 24 घंटे में ब्रिटेन में महज 1649 कोरोना के मामले ही सामने आए

लंदन: ब्रिटेन में सोमवार को 2,50,000 और लोगों को वैक्सीन दी गई और इसके बाद देश में 5 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है. इनमें से 3.46 करोड़ लोग वो हैं, जिन्हें कोरोना की पहली वैक्सीन दी जा चुकी है. जबकि 1.54 करोड़ वो लोग हैं, जो दोनों खुराक ले चुके हैं.

हालांकि प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने स्पष्ट कर दिया है कि कोरोना के मामलों में कमी आने और वैक्सीनेशन के बावजूद भी लापरवाही नहीं बरती जाएगी. उन्होंने आगाह किया है कि जिन देशों को ग्रीन लिस्ट में डाला गया है, वहां से भी कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है.

कोरोना वायरस की वजह से मरने वालों की संख्या में 83 फीसदी से भी ज्यादा कमी आई है. पिछले हफ्ते यह मौत का आंकड़ा 6 था, जो अब घटकर 1 ही रह गया है. इसके चलते ब्रिटेन कड़े संघर्षों के बाद कोविड-19 से जंग जीतता दिख रहा है.

नौ महीने में पहली बार ऐसा हुआ है, जब 24 घंटे के भीतर कोरोना संक्रमण से महज एक ही व्यक्ति की मौत हुई है. ब्रिटेन के स्वास्थ्य विभाग का डाटा दिखाता है कि यह तीसरा मौका है जब देश में मौत की संख्या घटकर एक तक आ गई है.

इसके अलावा बीते 24 घंटे में ब्रिटेन में महज 1649 कोरोना के मामले ही सामने आए हैं. यह आंकड़े सितंबर के बाद सबसे कम हैं. ब्रिटेन में 5 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगवाई जा चुकी है. मतलब 30 फीसदी वयस्कों को वैक्सीन लग चुकी है. इस बीच ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने भी कहा है कि इस बार की गर्मियां हमारे लिए अच्छी बीतेंगी.

इस दिन नहीं हुई थी एक भी मौत

कोरोना महामारी के काल में ब्रिटेन में यह तीसरा मौका है, जब मौत की संख्या घटकर 1 तक पहुंच गई. इससे पहले पिछले साल 3 और 30 अगस्त को भी देश में कोरोना से सिर्फ एक ही मौत हुई थी. हालांकि 30 जुलाई इकलौता ऐसा दिन है, जिस दिन ब्रिटेन में कोरोना की वजह से किसी की भी जान नहीं गई थी.

रोजाना सामने आने वाले संक्रमितों के आंकड़ों में भी काफी गिरावट देखने को मिली है. पिछले सोमवार यहां 2064 मामले सामने आए थे जबकि इस सोमवार को यह आंकड़ा घटकर 1649 तक पहुंच गया.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button