ईरान में ब्रिटिश कंप्यूटर वैज्ञानिक गिरफ्तार

तेहरानः ईरान में विश्वविद्यालय के एक ब्रिटिश-ईरानी प्रोफैसर को हिरासत में लिया गया है। सैन्य कार्रवाई के खिलाफ सक्रिय रूप से अभियान चलाने के आरोपी इस प्रोफैसर को ईरान के रेवलूशनरी गार्ड ने पकड़ा है। वर्ष 2015 के परमाणु समझौते के बाद दोहरी नागरिकता वाले व्यक्ति को हिरासत में लिए जाने का यह ताजा मामला है। ब्रिटेन के विदेश कार्यालय ने कहा है कि ईरान में कंप्यूटर वैज्ञानिक और गणितज्ञ अब्बास इदालत को हिरासत में लिए जाने की खबर पर तत्काल सूचना मांगी गई है।

दोहरी नागरिकता वाले असामान्य इस मामले पर ईरान की सरकारी मीडिया ने तत्काल रिपोर्ट नहीं दी है । अभी यह स्पष्ट नहीं है कि अब्बास किन आरोपों का सामना कर रहे हैं। हालांकि रेवलूशनरी गार्ड उन लोगों को गिरफ्तार करता है, जो जासूसी या सुरक्षा संबंधित आरोपों में शामिल होते हैं। ऐसे आरोपियों पर बंद कमरे में मुकद्दमा चलता है, जहां खुद का बचाव करने का मौका दिए बिना ही दोषी करार दे दिया जाता है।

बता दें कि अब्बास इंपीरियल कॉलेज लंदन में प्रोफैसर हैं। विश्वविद्यालय ने अभी इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है। एक कार्यशाला के लिए ईरान आए अब्बास को 15 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया। उन्हें बुधवार को जमानत देने से इंकार कर दिया गया। उन्होंने दलील दी है कि वह निर्दोष हैं और उन्हें रिहा किया जाना चाहिए। गार्ड ने तेहरान में उनके घर पर भी छापा मारा है।

Back to top button