क्राइमराज्य

टूटी पटरी से गुजरी ट्रेन, बाल-बाल बचे यात्री

आनन-फानन में इंजीनियरिंग विभाग टूटी हुई रेल पटरी की मरम्मत

उत्तरप्रदेश: इलाहाबाद के नैनी रेलवे स्टेशन पर सुबह बड़ा रेल हादसा होते-होते बच गया. टूटी पटरी से ही सिंगरौली से बरेली जाने वाली त्रिवेणी एक्सप्रेस गुजर गई. गनीमत रही की उस समय ट्रेन नहीं पलटी. लेकिन, ट्रेन गुजरने के बाद पटरी पर बडा क्रैक आ गया और पटरी का एक टुकड़ा टूटकर अलग हो गया था. अगर अगले कुछ मिनट में जीआरपी के जवानों ने सतर्कता न दिखाई होती तो इस रुट से कुछ देरी में 10 ट्रेन गुजरने वाली थी. जिनका हादसे का शिकार होना तय था. रेलकर्मियों ने सवा घंटे में ट्रैक को आवागमन के काबिल बनाया और मंद गति से कॉशन के साथ गाड़ियों को पास कराया गया. इस दौरान 5 सवारी गाडियों समेत दस ट्रेन प्रभावित रही. सभी को जगह जगह इमरजेंसी सूचना पर रोक दिया गया था.

सुबह 5 बजकर 33 मिनट पर त्रिवेणी एक्सप्रेस नैनी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर-2 से गुजर रही थी कि पटरी पर तेज आवाज हुई. आवाज सुनकर जीआरपी हेड कांस्टेबल जितेंद्र कुमार को अनहोनी की आशंका हुई. सतर्कता दिखाते हुए उन्होंने अपनी साथी कांस्टेबल रवींद्र कुमार और की – मैन नंदू को जानकारी दी और ट्रैक निरीक्षण करने लगे. ट्रैक पर प्वाइंट 817/19-21 से प्वाइंट नंबर 79 बी के बीच रेल पटरी के ऊपरी हिस्से से 9 इंच का टुकड़ा टूट कर अलग हो गया था. यानी यहां ट्रेन का पहिया बगैर पटरी के दौड़ता और दुर्घटनाग्रस्त हो जाता घटना की सूचना तत्काल स्टेशन मास्टर को दी गई और स्टेशन मास्टर ने कंट्रोल रूम को सूचना देते हुए इस रूट से गुजरने वाली तमाम ट्रेनों को जगह-जगह रुकवा दिया.

आनन-फानन में इंजीनियरिंग विभाग टूटी हुई रेल पटरी की मरम्मत में जुटा और लगभग सवा घंटे बाद कॉशन लगाकर गाड़ियों का मंद गति से गुजारा गया. बाद में ब्लॉक लेकर नई रेल लाइन लगा दी गई. उसके बाद रूट सामान्य हुआ और गाड़ियां सामान्य गति से चलीं. जानकारी देते हुए मंडल रेल प्रबंधक इलाहाबाद अमिताभ ने बताया कि पटरी टूटने से अप लाइन पर पांच एक्सप्रेस और पांच माल गाड़ियां प्रभावित हुईं. इनमें अप लाइन की झारखंड एक्सप्रेस, दानापुर-पुणो एक्सप्रेस, पटना-पूरना एक्सप्रेस, तूफान एक्सप्रेस और मगध एक्सप्रेस शामिल रही.

Summary
Review Date
Reviewed Item
टूटी पटरी से गुजरी ट्रेन, बाल-बाल बचे यात्री
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.