सगे भाईयों की गोली मारकर हत्या, मौके पर फोर्स की तैनाती

पुलिस ने 3 लोगों को हिरासत में लिया

लखनऊः

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सगे भाईयों की हत्या को दौड़ा-दौड़कर लाठी डंडों से पीटने और बाद में गोली मारने का मामला सामने आया है। जिससे लखनऊ में सनसनी फ़ेल गई है ।

घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। वहीं हत्या के 5 घंटे बाद पुलिस ने 3 लोगों को हिरासत में लिया है। ठाकुरगंज निवासी दिलदार प्रॉपर्टी डीलर है।

दिलदार का बड़ा बेटा इमरान और छोटा बेटा अरमान ओला कैब चलाते हैं। दोनों भाई बुधवार देर रात गाड़ी में सीएनजी गैस भरवाने जा रहे थे। तभी रास्ते में मुसाहिब गंज के पास अज्ञात लोगों ने कैब को ओवरटेक करके उन्हें रोक लिया।

हमलावरों ने दोनों भाइयों को दौड़ा-दौड़कर लाठी डंडों से पीटा और बाद में गोली मार दी। घटना की सूचना मिलते ही एएसपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी, सीओ दुर्गा प्रसाद तिवारी, ठाकुरगंज कोतवाल अन्जनी पांडेय मौके पर पहुंचे। पुलिस ने दोनों भाइयों को गंभीर हालत में ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया, जहां उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई।

मृतक इमरान के चाचा रफीक ने इसी मोहल्ले के रहने वाले शिवम और चीना पर आरोप लगाते हुए कहा कि इन दोनों ने अपने साथियों के साथ मिल हमारे भतीजों की हत्या की है।

उन्होंने कहा कि इस प्रकरण में ठाकुरगंज पुलिस की लापरवाही सामने आई है। हत्या से पहले आधा घंटे तक दंबग दोनों को बुरी तरह पीटते रहे मगर पुलिस नहीं पहुंची। अगर पुलिस हस्तक्षेप कर देती तो शायद हत्या जैसी नौबत नहीं आती।

वारदात के बाद इलाके में तनाव फैल गया है। मौके पर फोर्स की तैनाती की गई है। इसके साथ ही मामला दर्ज करके थानों को अलर्ट कर दिया गया है।

Back to top button