BSF की पाक को चेतावनी, कहा- ऐसी घटनाएं बर्दाश्त नहीं

जम्मूः बीएसएफ और पाकिस्तानी रेंजर्स के बीच आज यहां अंतरराष्ट्रीय सीमा पर एक फ्लैग मीटिंग हुई जिसमें भारतीय पक्ष ने हाल में बिना उकसावे के गोलीबारी की घटनाएं बढऩे पर कड़ा विरोध दर्ज कराया और इस बात पर जोर दिया कि ऐसी हरकतों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

पाकिस्तान की गोलाबारी पर जताई आपत्ति
बीएसएफ की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, बैठक के दौरान बीएसएफ ने गत तीन जनवरी और 17 जनवरी को अपने जवानों पर निशाना बनाए जाने के साथ ही बिना उकसावे के भारतीय गांवों, बेगुनाह नागरिकों एवं उनकी सम्पत्तियों को निशाना बनाते हुए की गई गोलीबारी एवं गोलाबारी पर कड़ी आपत्ति जताई। बीएसएफ ने इस संदेश के साथ कड़ा विरोध दर्ज कराया कि ऐसे उकसावे वाले कृत्य अस्वीकार्य हैं और इन्हें बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

भारतीय ने असफल किए घुसपैठ के कई प्रयास
आधे घंटे की यह बैठक दोपहर में हुई जिसमें बीएसएफ दल का नेतृत्व बीएसएफ के उप महानिरीक्षक पी.एस. धीमान ने किया, वहीं 10 सदस्यीय पाकिस्तानी रेंजर्स दल का नेतृत्व पाकिस्तानी रेंजर्स के चिनाब सेक्टर (सियालकोट) के सेक्टर कमांडर ब्रिगेडियर अमजद हुसैन ने किया।

बयान में कहा गया कि इस अवधि के दौरान बीएसएफ ने पाकिस्तानी धरती से घुसपैठ के कई प्रयासों को सफलतापूर्वक असफल किया, जिसमें एक घुसपैठिए को मार गिराना शामिल है। बीएसएफ ने सीमापार से बिना उकसावे के गोलीबारी के जवाब में पिछले कुछ दिनों के दौरान जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा से 9000 से अधिक मोर्टार के गोले दागे।

1
Back to top button