स्वच्छता रैंकिंग में आगे निकलने BSP पूरी तैयार, अब आचार संहिता हटने का इंतजार

अंकित मिंज

बिलासपुर। केंद्रीय स्वच्छता टीम इस बार जनवरी में स्वच्छता का सर्वे करने के लिए यहां आएगी। निगम प्रशासन ने पिछली बार देश भर के 4000 से अधिक शहरों में बिलासपुर को 22 वां रैंकिंग मिलने के बाद सुविधाओं में विस्तार करने की यो जना बना रहा है,

लेकिन इसमें आचार संहिता आड़े आ रही है। चुनाव आचार संहिता समाप्त होने के बाद तैयारियों के लिए जोर आजमाइश शुरू होगा। निगम प्रशासन एक बार फिर स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए तैयारी कर रहा है।

आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू होने के कारण अभी कागजी तैयारी पर पूरा ध्यान केन्द्रित किया गया है।

चुनाव आचार संहिता खत्म होने के बाद धरातल पर तैयारी दिखाई देगी। निगम प्रशासन ने पिछली बार देश भर में स्वच्छता में मिली 22 वीं रैंकिंग के बाद खुद सर्वे का काम शुरू कर दिया है।

निगम के अफसर और कर्मचारी देर रात नगर भ्रमण कर मैके ग्नाइज्ड सफाई और धुलाई कार्य का जायजा लेने निकल रहे हैं। सुविधाओं में मोडिफिकेशन का प्लान भी लगभग तैयार कर लिया गया है।

इस बार चिन्हांकित सार्वजनिक शौचालयों के सुविधाओं में विस्तार किया जाएगा। इन शौचालयों हैंड ड्रायर और महिलाओं के लिए सेनेटरी नेपकीन की सुविधा की जाएगी। इसके लिए शौचालयों की सूची तैयार की जा रही है कि कहा इन सुविधाओं को लागू करना है।

इसके अलावा घर.घर से कचरे के उठाव और प्रोसेसिंग प्लांट पर भी पूरा जोर दिया जा रहा है, ताकि केंद्रीय टीम को दिखाया जा सके कि कै से बिलासपुर नगर निगम द्वारा कचरे का संपूर्ण निदान डंपिंग यार्ड कछार में किया जा रहा है।-

ले रहे फीड बैक :

तय योजना के तहत निगम के अफसर और कर्मचारी रात में स्वच्छता कार्य का जायजा तो ले ही रहे हैं, साथ ही अलग-अलग इलाकों में भ्रमण कर नागरिकों से फीड बैक भी ले रहे हैं कि सफाई व्यवस्था को लेकर उनकी सोच क्या है। सफाई की व्यवस्था पहले से बेहतर हुई है या नहीं।

Back to top button