BSP सुप्रीमो बोलीं- BJP को नहीं बचा पाएगी चौकीदारी की नई नाटकबाजी

24 साल बाद माया-मुलायम ने साझा किया मंच

मैनपुरी। लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) के लिए उत्तर प्रदेश के मैनपुरी (Mainpuri Rally) में महागठबंधन की ऐतिहासिक रैली शुक्रवार को हुई। इस रैली में 24 साल बाद मायावती (Mayawati) और मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने एक साथ मंच साझा किया। मुलायम सिंह यादव ने चुनावी रैली में अपने समर्थकों से हमेशा मायावती का सम्मान करने को कहा। मुलायम ने कहा कि हम और मायावती बहुत दिनों बाद एक मंच पर हैं।

मुलायम सिंह यादव ने कहा कि आज महिलाओं का शोषण हो रहा है। इसके लिए हमने लोकसभा में सवाल उठाया। संकल्प लिया गया कि महिलाओं का शोषण नहीं होने दिया जाएगा। सपा संरक्षक ने मैनपुरी की जनता से कहा कि आखिरी बार हम खड़े हुए हैं, भारी बहुमत से जिता देना।

उन्होंने कहा कि आज हमारी मायावती आई हैं, मैं इस अहसान को कभी नहीं भूलूंगा। उन्होंने लोगों से हमेशा मायावती का बहुत सम्मान करने को कहा। वहीं, मायावती ने चुनावी रैली में सपा संरक्षक और मैनपुरी से उम्मीदवार मुलायम सिंह यादव को भारी वोटों से जिताने की अपील की।

मायावती ने कहा कि केंद्र में आजादी के बाद सरकार कांग्रेस या बीजेपी की ही रही है लेकिन कांग्रेस पार्टी के केंद्र की गलत नीतियों की वजह इन्हें केंद्र और राज्यों की सत्ता से बाहर होना पड़ा है। और अब बीजेपी आरएसएसवादी, संकीर्ण, जातिवादी आदि की वजह से सत्ता से बाहर चली जाएगी। उन्होंने कहा कि बीजेपी को इनकी नई नाटकबाजी चौकीदारी भी नहीं बचा पाएगी।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि बीजेपी के बहकावे में जनता नहीं आने वाली है।

इसलिए मेरी अपील है कि आप लोगों को किसी भी बहकावे में न आकर हमारे गठबंधन को कामयाब बनाना है। मुलायम और मायावती के बाद रैली को संबोधित करने आए अखिलेश यादव ने मायावती का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि यह ऐतिहासिक पल है। आपने जनता से अपील की है कि नेताजी को बहुत बहुमत से जिताएं। मुझे पूरा भरोसा है कि इस अपील के बाद मैनपुरी की जनता ऐतिहासिक वोटों से नेताजी को जीताने जा रही है। नेताजी ने कहा कि आप हमारे बीच आई हैं, हम आपका आदर करते हैं।

Back to top button