UP Budget 2018-19 Highlights: यूपी बजट: पीएम के संसदीय क्षेत्र पर भारी सीएम का गृहक्षेत्र, गोरखपुर में हाई-वे, अस्पताल, ऑडिटोरियम का एलान

Uttar Pradesh Budget 2018 LIVE, UP Budget 2018 Live Highlights (उत्तर प्रदेश बजट २०१८): गोरखपुर में एक बर्न यूनिट सेटअप करने का भी ऐलान किया गया है। इसके अलावा गोरखपुर में एक मॉडर्न ऑडिटोरियम बनाने की भी घोषणा हुई है। इसके लिए वित्त मंत्री ने 29.50 करोड़ रुपये का बजटीय आवंटन किया है।

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने शुक्रवार (16 फरवरी) को विधान सभा में साल 2018-19 का बजट पेश किया। राज्य के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने दूसरी बार बजट पेश करते हुए करीब एक घंटे के बजट भाषण में इस साल कुल 4 लाख 28 हजार 384 करोड़ रुपये का मेगा बजट पेश किया है।

बजट पर आगामी लोकसभा चुनाव और क्षेत्रीय वर्चस्व का प्रभाव देखा जा सकता है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह क्षेत्र गोरखपुर के लिए बजट में कई बड़ी घोषणाएं की गई हैं जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी को बहुत ज्यादा तवज्जो नहीं दिया गया है।

योगी सरकार ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लिए बजट में 1000 करोड़ रुपये के आवंटन का एलान किया है। बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ पहले ही ऐलान कर चुके हैं कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से गोरखपुर को लिंक एक्सप्रेस-वे से जोड़ा जाएगा। इस लिंक एक्सप्रेस-वे के शुरुआती काम के लिए बजट में 550 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

राज्य सरकार ने प्रदेश के चार मेडिकल कॉलेजों का अपग्रेडेशन करने का फैसला किया है। इन चार मेडिकल कॉलेज में से एक गोरखपुर का भी मेडिकल कॉलेज शामिल है। वित्त मंत्री ने एलान किया कि झांसी, गोरखपुर, इलाहाबाद और मेरठ के मेडिकल कॉलेज को अपग्रेड कर वहां सुपर स्पेशियलिटी डिपार्टमेंट खोला जाएगा।

इसके अलावा कानपुर और आगरा के मेडिकल कॉलेज में भी सुपर स्पेशियलिटी डिपार्टमेंट खोलने के लिए प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत अलग से 126 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

गोरखपुर में एक बर्न यूनिट सेटअप करने का भी ऐलान किया गया है। इसके अलावा गोरखपुर में एक मॉडर्न ऑडिटोरियम बनाने की भी घोषणा हुई है। इसके लिए वित्त मंत्री ने 29.50 करोड़ रुपये का बजटीय आवंटन किया है। प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी को बजट में कम योजनाएं आवंटित की गई हैं।

वाराणसी को स्मार्ट सिटी मिशन के तहत आवंटित 1650 करोड़ में ही हिस्सेदार बनाया गया है। सरकार ने इतनी राशि वाराणसी समेत लखनऊ, कावपुर, आगरा, इलाहाबाद, अलीगढ़, झांसी, मोरादाबाद, बरेली और शाहजहांपुर के विकास के लिए संयुक्त रूप से आवंटित किया है। पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के पैतृक घर को म्यूजियम बनाने का फैसला सरकरा ने किया है।

गौरतलब है कि पिछले साल 3 लाख 84 हजार करोड़ का बजट पेश किया गया था। बजट में शिक्षा, स्वास्थ्य और किसानों का भी ध्यान रखा गया है। इसके अलावा महिला एवं बाल कल्याण योजना के लिए भी 8,815 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया गया है।

इस बार के बजट में 14,341.89 करोड़ रुपए नई योजनाओं के लिए आवंटित किए गए हैं। वाराणसी, मेरठ, गोरखपुर, इलाहाबाद, झांसी में मेट्रो का काम शुरू किया जाएगा। इसके लिए 100 करोड़ रुपए का बजट दिया गया है।

वहीं राज्य के वित्त मंत्री ने स्पोर्ट्स को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं के विजेताओं के लिए 3 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया है।

new jindal advt tree advt
Back to top button