बुलंदशहर: एफआईआर में दर्ज नहीं था गिरफ्तार प्रशांत नट का नाम

प्रशांत नट की गिरफ़्तारी कर उसे मुख्य अभियुक्त बताया

बुलंदशहर: बुलंदशहर हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध की गोली मारकर हत्या करने के मामले में पुलिस ने एक नई गिरफ़्तारी की है. गिरफ़्तार प्रशांत नट नामक इस शख्स का नाम पहले से दर्ज एफ़आईआर में नहीं था.

अब तक हत्या के इस मामले में मुख्य संदिग्ध के रूप में बजरंग दल के स्थानीय प्रमुख योगेश राज का नाम आ रहा था लेकिन अब पुलिस ने प्रशांत नट की गिरफ़्तारी कर उसे मुख्य अभियुक्त बताया है.

पुलिस ने बताया कि प्रशांत को गिरफ़्तार करने के बाद उसे घटनास्थल ले जाया गया और सीन को रीक्रिएट भी किया. प्रशांत नट को सिकंदराबाद-नोएडा बॉर्डर दनकौर रोड से गिरफ़्तार किया गया है.

तीन दिसंबर, 2018 को बुलंदशहर में गुस्साई भीड़ के हमले में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और एक स्थानीय युवक सुमित की मौत हो गई थी. यह भीड़ उस क्षेत्र में कथित गो हत्या के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन कर रही थी.

new jindal advt tree advt
Back to top button