राष्ट्रीय

आंध्र और ओडिशा की तरफ बढ़ रहा ‘तितली’ तूफान हुआ प्रचंड

-अलर्ट जारी, छत्तीसगढ़ में कल होगी बारिश

भुवनेश्वर।

बंगाल की खाड़ी पर बन रहे दबाव के कारण आए चक्रवाती तूफान तितली ने बुधवार को प्रचंड रूप ले लिया। यह तूफान धीरे-धीरे ओडिशा-आंध्र प्रदेश तट की ओर बढ़ रहा है। फिलहाल यह तूफान 10 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रहा है।

मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार सुबह तक इसकी तीव्रता और बढ़ेगी और 145 किलोमीटर तक की रफ्तार से हवाएं चलने के आसार हैं। ओडिशा सरकार ने ‘तितली’ तूफान के मद्देनजर सुरक्षा और राहत एजेंसियों को अलर्ट पर रखा है।

मौसम विभाग ने बुधवार को जारी अपने पूवार्नुमान में ओडिशा के ज्यादातर हिस्सों में भारी बारिश की आशंका जताई है। जिन जिलों को रेड अलर्ट पर रखा गया है उनमें गजपति, गंजम, पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, भद्रक और बालसोर शामिल हैं। इसके अलावा खुर्दा, नयागढ़, कटक, जाजपुर, ढेंकानाल, रायगड़, कंधामल और केंवझर को किसी भी वक्त आपदा की स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा गया है।
मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक ‘तितली’ ओडिशा और आंध्रप्रदेश के तटीय भागों में टकराएगा। यह

छत्तीसगढ़ के समानांतर आगे बढ़ेगा। यह तटीय क्षेत्र से होता हुआ पश्चिम बंगाल की ओर निकलेगा। इसका सबसे ज्यादा असर दक्षिण छत्तीसगढ़ में पड़ेगा।

समूचे प्रदेश में बुधवार से बादल छाएं रहेंगे, कुछ क्षेत्रों में यह घने काले होंगे। 11, 12 अक्टूबर की सुबह से ही रायपुर और बिलासपुर में बारिश होनी शुरू हो जाएगी। चक्रवात का असर 13 अक्टूबर से कम होने का पूवार्नुमान है। रायपुर, बिलासपुर, अंबिकापुर और बस्तर को यह प्रभावित करेगा। बस्तर में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

Back to top button