छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में दिखा ‘तितली’ तूफान का असर, बादल छाने के साथ रुक-रुक कर होगी बारिश

केंद्रीय मौसम विज्ञान विभाग और लालपुर मौसम विज्ञान विभाग ने 'तितली" को भीषण चक्रवात बताया

रायपुर। ओड़िशा, आंध्रप्रदेश व पंश्चिम बंगाल के बाद चक्रवाती तूफान ‘तितली‘ ने उत्तर छत्तीसगढ़ में भी दस्तक दे दी है।

140 से 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आग बढ़ रहे तूफान के असर से गुरुवार को जशपुर जिले में सुबह से रुक-रुक कर बारिश हो रही है।

वहीं जशपुर के साथ छत्तीसगढ़ के कई हिस्सों में बादल छाने के साथ बारिश के आसार बन रहे हैं।

केंद्रीय मौसम विज्ञान विभाग और लालपुर मौसम विज्ञान विभाग ने ‘तितली” को भीषण चक्रवात बताया है।

लालपुर मौसम विज्ञान विभाग ने छत्तीसगढ़ के कुछ जिलों को यलो अलर्ट पर रखा है। हालांकि कोई बड़ी चेतावनी जारी नहीं की गई है, लेकिन संपूर्ण प्रदेश में बादल घिरे होने, बूंदाबांदी, मध्यम से भारी बारिश का पूर्वानुमान जारी किया है।

‘तितली” छत्तीसगढ़ के समानांतर आगे बढ़ रहा है। प्रदेश में आगामी 36 घंटे तक इसका असर रहेगा। खासकर उन सीमावर्ती क्षेत्रों में जो ओडिशा, पश्चिम बंगाल से लगे हुए हैं। बहरहाल छत्तीसगढ़ में अधिकतम तापमान अब स्थिर हो गया है, यह 34 डिग्री पर बना हुआ है।

न्यूनतम तापमान पेंड्रा रोड में 17 डिग्री जा पहुंचा है, अन्य जिलों में तापमान गिरेगा। मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार गुस्र्वार की शाम तक राजधानी रायपुर में मौसम का मिलाज बदल सकता है और हल्की बारिश हो सकती है।

इसके साथ ही गरियाबंद में मध्यम से भारी बारिश, धमतरी में बादल घिरने की संभावना है। बस्तर में यलो अलर्ट जारी किया गया है। सुकमा, कांकेर, कोरिया से लेकर जशपुर, रायगढ़, बलरामपुर में मध्यम से भारी बारिश का पूर्वानुमान है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
छत्तीसगढ़ में दिखा 'तितली' तूफान का असर, बादल छाने के साथ बारिश के आसार
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags