सोने की कीमत में बड़ी गिरावट से खरीददार खुश, जानिए सोना का ताजा भाव

सोना खरीददारों के लिए अच्छी खबर है। इस कारोबारी हफ्ते के दूसरे दिन भी सोना के साथ-साथ चांदी भी सस्ता हुआ। इस गिरावट से मंगलवार को सोना का रेट 46500 रुपये प्रति 10 ग्राम से नीचे आ गया जबकि से भी कम हो गए हैं। सोने के साथ ही आज फिर से चांदी भी सस्ती हुई है। जबकि चांदी 63000 रुपये प्रतिकिलो ग्राम के करीब पहुच गया।

मंगलवार को सोना 173 रुपये प्रति 10 ग्राम के हिसाब से सस्ता हुआ। इस गिरावट के बाद 24 कैरेट वाले सोने की कीमत गिरकर 46352 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर आ गया। इससे पहले सोमवार को सोना 46525 रुपये प्रति दस ग्राम के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं चांदी की कीमत 856 रुपये प्रति किलोग्राम की गिरावट देखने को मिली। इस गिरावट के बाद चांदी की कीमत गिरकर 63330 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर पर बंद हुई। इससे पहले सोमवार चांदी 64186 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर पर बंद हुई थी।

14 से लेकर 24 कैरेट सोना का ताजा भाव

फिलहाल सर्राफा बाजार बुधवार को 24 कैरेट वाला सोना 46352 रुपये प्रति 10 ग्राम, 23 कैरेट वाला सोना 46166 रुपये प्रति 10 ग्राम, 22 कैरेट वाला सोना 42458 रुपये प्रति 10 ग्राम, 18 कैरेट वाला सोना 34764 रुपये प्रति 10 ग्राम और 14 कैरेट वाला सोना 27116 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर रहा।

आपको बात दें कि पिछले हफ्ते 2 अगस्त को MCX पर पर सोना 48000 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर था। इसके बाद से इसमें काफी उतार चढ़ाव देखने को मिला। शुक्रवार को सोने की कीमतों में 1,000 रुपए और सोमवार को सोना 750 रुपये प्रति 10 ग्राम की गिरावट दर्ज की गई। वहीं शुक्रावर को चांदी में 2,000 रुपए और सोमवार को 2250 प्रति किलोग्राम सस्ता हुआ। इस तहत दो दिन में ही सोना 1700 रुपये प्रति तोला से ज्यादा सस्ता हो गया तो चांदी की कीमत में 4000 रुपये प्रति किलोग्राम तक की गिरावाट आ चुकी है।

अपने ऑल टाइम हाई से 10000 रुपये प्रति 10 ग्राम सस्ता मिल रहा है सोना

इस तरह अपने ऑल टाइम हाई से सोना करीब 10000 रुपये प्रति 10 ग्राम तक सस्ता हो चुका है। पिछले साल अगस्त में सोना 56,200 रुपये के ऑल टाइम हाई लेवल तक जा पहुंचा था और अभी सोना 46,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर है। निवेश करने के लिहाज यह काफी बड़ी गिरावट है।

ऐसे गोल्ड के बनते हैं ज्वेलरी

आपको बता दें कि 24 कैरेट सोना सबसे शुद्ध होता है, लेकिन 24 कैरेट गोल्ड की ज्वेलरी नहीं बनती है। आम तौर पर ज्वेलरी बनाने के लिए 22 कैरेट सोने का इस्तेमाल किया जाता है, जिसमें 91.66 फीसदी सोना होता है। अगर आप 22 कैरेट सोने की ज्वेलरी लेते हैं तो आपको पता होना चाहिए कि इसमें 22 कैरेट गोल्ड के साथ 2 कैरेट कोई और मेटल मिक्स किया गया है।

हॉलमार्क देखकर ही खरीदें गोल्ड

आपको बता दें कि सोना खरीदते समय उसकी क्वॉलिटी का ध्यान जरूर रखें। हॉलमार्क देखकर ही सोने के गहनों की खरीदना चाहिए। हॉलमार्क सोने की सरकारी गारंटी है और भारत की एकमात्र एजेंसी ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड (BIS) हॉलमार्क का निर्धारण करती है। हॉलमार्किंग योजना भारतीय मानक ब्यूरो अधिनियम के तहत संचालन, नियम और रेग्युलेशन का काम करती है।

ऐसे पहचाने ज्वेलरी की प्योरिटी

गहने यानी ज्वेलरी में शुद्धता को लेकर हॉलमार्क से जुड़े 5 तरह के निशान होते हैं, और ये निशान ज्वेलरी में होते हैं। इसमें से एक कैरेट को लेकर लेकर होता है। अगर 22 कैरेट की ज्वेलरी होगी तो उसमें 916, 21 कैरेट की ज्वेलरी पर 875 और 18 कैरेट की ज्वेलरी पर 750 लिखा होता है। वहीं अगर ज्वेलरी 14 कैरेट की होगी तो उसमें 585 लिखा होगा। आप खुद ज्वेलरी में इस निशान को देख सकते हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button