छत्तीसगढ़बड़ी खबरराजनीति

विदेश की कंपनी से मोबाईल खरीदना भ्रष्टाचार की ओर इशारा कर रहा है : अजीत जोगी

विदेश की कंपनी से मोबाईल खरीदना भ्रष्टाचार की ओर इशारा कर रहा है : अजीत जोगी

रायपुर : छत्तीसगढ़ सरकार अब प्रदेश की जनता को डिजिटल बनाने के उदेश्य से प्रदेश के 45 लाख लोगों को एंड्राइड फ़ोन बांटने की योजना बना रही है. इसके लिए सरकार ने काम भी शुरू कर दिया है.

राज्य सरकार के इस फैसले के बाद अब राजनीति भी गर्माने लगी है. सरकार के 45 लाख स्मार्ट फ़ोन बाँटने के फैसले में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के संस्थापक अजीत जोगी ने भ्रष्टाचार होने का अंदेशा जताया है. जोगी ने पंचायतों की राशि से मोबाइल टावर लगाने के कैबिनेट के फैसले को बड़ी साजिश करार दी है.

अजीत जोगी ने सरकार द्वारा करीब 7 सौ करोड़ की लागत से 45 लाख मुफ्त मोबाइल बांटने वाले फैसले पर भ्रष्टाचार का अंदेशा जताते हुए कहा कि टावर पंचायतों की राशि से नहीं बल्कि शराब से जो अतिरिक्त कमाई हो रही है उसका पैसा लगाना चाहिए. जोगी ने कहा कि ये सरकार जो ब्रह्मास्त्र की बात करती थी अब 45 लाख स्मार्ट फ़ोन मुफ्त में बांटने वाली है.

अजीत जोगी कहना है कि मोबाइल के लिए ताईवान की एक कंपनी को 45 लाख फ़ोन का आर्डर दे रहे हैं. ये सही नहीं है. 45 लाख फ़ोन बाहर से खरीदना भ्रष्टाचार होने की आशंका को जन्म देता है.

जोगी का कहना है कि कमीशन के लिए विदेश की कंपनी को ठेका दिया जा रहा है. अगर ऐसा होता है तो इसमें बड़े भ्रष्टाचार की बू आ रही है. मोबाइल बांटने का ठेका भले अम्बानी या किसी दूसरी देश की कंपनी को देना चाहिए. उन्होंने कहा कि अगर ताईवान की कंपनी से मोबाइल खरीदा गया तो ये ऑगस्टा वेस्टलैंड घोटाले से बड़ा घोटाला हो सकता है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.