मध्यप्रदेश

मध्य प्रदेश में उपचुनावः बुरे फंसे खाद्य मंत्री विसाहू लाल सिंह, नोट बांटते हुए वीडियो वायरल

कांग्रेस का आरोप है कि यह गद्दार बिकाऊ हो सकते हैं, पर प्रदेश का मतदाता विकाऊ नहीं है.

भोपालः मध्य प्रदेश के खाद्य मंत्री और अनूपपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के संभावित प्रत्याशी विसाहू लाल सिंह का नोट बांटते हुए फोटो और वीडियो वायरल होने पर भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने आ गई हैं.

कांग्रेस का आरोप है कि यह गद्दार बिकाऊ हो सकते हैं, पर प्रदेश का मतदाता विकाऊ नहीं है. वहीं मध्य प्रदेश के गृह मंत्री डा.नरोत्तम मिश्रा का आरोप है. भाजपा सरकार के मंत्री बिसाहू लाल सिंह को बदनाम करने के लिए कांग्रेस फेक फोटो और वीडियो का सहारा ले रही है

सोशल मीडिया में राज्य के खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह का एक फोटो और वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वह बच्चियों को 100-100 रुपए के नोट बांटते हुए दिखाई दे रहे हैं. बताया जा रहा है कि यह वीडियो अनूपपुर विधानसभा क्षेत्र के एक गांव का है, जहां चुनावी दौरे के दौरान कलश लेकर स्वागत कर रही बच्चियों को बिसाहूलाल सिंह ने रुपए बांटे थे.

इसको लेकर प्रदेश काग्रेस अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सालूजा ने ट्वीट कर कहा कि जब ये गद्दार खुद 35 करोड़ में बिके है तो नोट तो यूं लुटाएंगे ही. लेकिन ये सच्चाई जान ले कि ये गद्दार बिकाऊ हो सकते है, प्रदेश का मतदाता बिकाऊ नहीं है.

गौरतलब है कि बीते मार्च के महिने में ज्योतिरादित्य सिंधिया के द्वारा की गई बगावत के समय जिन 22 विधायकों और मंत्रियों ने कांग्रेस को छोड़कर भाजपा की सदस्यता ली थी उनमें बिसाहूलाल सिंह भी शामिल थे. खाद्य मंत्री बिसाहू लाल के वायरल हो रहे पोस्ट पर गृहमंत्री डा.नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि यह सब कांग्रेस के द्वारा फैलाया जा रहा है, झूठ है.

फेक वीडियो चलाने से कुछ हासिल नहीं होगा. भाजपा सरकार के मंत्री बिसाहू लाल सिंह को बदनाम करने के लिए कांग्रेस फेक वीडियो का सहारा ले रही है. इससे साबित होता है कि उसमें चुनाव मैदान में सीधा सामने करने की हिम्मत नहीं है. तभी वो पीठ पीछे साजिश कर रही है जबकि बिसाहूलाल बहुत अनुभवी और वरिष्ठ नेता हैं.

डा.मिश्रा ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि अपना काम बताओ और जनता के बीच जाओ. आलोचना से कुछ नहीं होने वाला. पहले प्रदेश के लिए वचनपत्र, अब विधानसभाओं के लिए, फिर वार्ड चुनाव में वार्डो के लिए और फिर हर घर के लिए. विपक्षी कब तक बोलेंगे झूठ? भाजपा के द्वारा उपचुनाव के लिए अब तक प्रत्याशी घोषित न किए जाने पर आपने कहा कि उपचुनाव के लिए हमारे प्रत्याशी घोषित है. मुख्यमंत्री उन्हें साथ लेकर सभाएं कर चुके हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button