छत्तीसगढ़

आरंग नगर में गुरुनानकदेव जी के 550 वें प्रकाश पर्व में सम्मिलित हुवे कैबिनेट मंत्री डॉ. डहरिया

आम लंगर मे प्रसाद भी ग्रहण किये

आरंग: सिक्खों के प्रथम गुरु साहेब गुरुनानक देव जी के 550 वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में आरंग सिक्ख समाज के द्वारा मेन रोड स्थित गुरुद्वारा में प्रकाश पर्व कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। जिसमें आरंग क्षेत्र के स्थानीय विधायक एवं कैबिनेट मंत्री,नगरीय प्रशासन, विकास एवं श्रम विभाग,डॉ. शिवकुमार डहरिया सम्मिलित हुवे।

उन्होंने सिक्ख समाज सभा को संबोधित करते हुवे सर्वप्रथम छत्तीसगढ़ प्रदेशवासियों एवं सिक्ख समाज को गुरुनानक देव जी के 550 वें प्रकाश पर्व की बधाई एवं शुभकामनाये दिए।आगे उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि गुरुनानक देव जी जो की सिक्ख धर्म के संस्थापक थे कहा करते थे अव्वल अल्लाह नूर उपाया, कुदरत के सब बन्दे!एक नूर ते सब जग उपज्या, कौन भले कौन मंदे..

गुरु जी की नजर में सच्चा सिक्ख वही है जो अपनी तरक्की सबके भले के साथ करें।उनका कहना था कि इंसान चाहे हिन्दू हो या मुसलमान ,पर इसके भी पहले है वो सिर्फ इंसान।

आगे उन्होंने ये भी कहा कि गुरुनानक देव जी जात – पात के भेद को नही मानते थे। उनके नजर में इंसान की एक ही जात है ,वो है मानव जात। उन्होंने मानव मानव एक समान के आदर्श को स्थापित करने का कार्य किया।

उद्बोधन के बाद सिक्ख समाज के द्वारा मंत्री जी के समक्ष सिक्ख मंगल भवन हेतु मांग पत्र प्रस्तुत किया गया, जिसमें मंच के माध्यम से ही तत्काल विचार करते हुवे कैबिनेट मंत्री डॉ. डहरिया ने सिक्ख मंगल भवन के लिए 20 लाख रुपये देने की घोषणा किये एवं पुनः सिक्ख समाज को गुरुनानक देव जी के 550 वें प्रकाश पर्व के बधाई दिए।

उक्त कार्यक्रम में प्रमुखरूप से बड़ी संख्या में सिक्ख समाज व सिंध समाज के वरिष्ठजन,युवा,महिलाये व बच्चे उपस्थित थे। साथ ही कांग्रेस पार्टी के प्रमुख कार्यकर्ता अलक चतुर्वेदी, रेखराम पात्रे,मंगलमूर्ति अग्रवाल, दीपक चंद्राकर,अब्दुल कादिर,डॉ.नंदकुमार कोसले,

गणेश बांधे, राजेश्वरी साहू, गौरव चंद्राकर,चंद्रकला साहू,मनीष चंद्राकर, ललित चंद्राकर, सजल चंद्राकर,समीर गोरी गौरीबाई देवांगन,भारती देवांगन, प्रदुम्मन शर्मा, शारद गुप्ता,खिलावन निषाद,सतीश चंद्राकर, दिनेश्वर तम्बोली,टिकेश्वर गिलहरे सहित बड़ी संख्या में युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Tags
Back to top button