छत्तीसगढ़राजनीति

कैबिनेट मंत्री टी.एस.सिंह देव ने भोरमदेव आजीविका परिसर ग्राम राजानवागांव पहुंचकर महिला समहू के कार्यो को देखा

समूह द्वारा निर्मित सामग्रियों को मंत्री टी.एस.सिंह देव ने खरीदा

हिमांशु सिंह ठाकुर:-ब्यूरो रिपोर्ट कवर्धा।

कवर्धा : भारमदेव आजीविका परिसर ग्राम राजानवागांव में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन ‘‘बिहान‘‘ की महिला समूहों द्वारा संचालित आर्थिक गतिविधियों को करीब से देख कर छत्तीसगढ़ के पंचायत मंत्री टी.एस.सिंह देव ने प्रसन्नता व्यक्त की कबीरधाम जिले के अपने एक दिवसीय प्रवास के दौरान मंत्री टी.एस.सिंह देव ने ग्राम राजानवागांव के मल्टीयूटिलीटी सेन्टर में पहुंच कर विभागीय कार्यो को देखा परिसर के अन्दर एवं बाहर संचालित गतिविधियों के संबध में मंत्री ने सभी समूह से पृथक-पृथक चर्चा कर किये जा रहें कार्य एवं उससे होने वाले आमदनी के बारे में जानकारी ली

महिला स्व सहायता समूह द्वारा बनाये जा रहे साबुन एवं निरमा निर्माण हर्बल फिनायल निर्माण, दोना पत्तल निर्माण, आचार पापड़ निर्माण, मसाला निर्माण, बैग निर्माण पैकेजींग एवं अन्य कार्य से जुड़ी जानकारी प्राप्त की मंत्री टी.एस.सिंह देव ने कलेक्टर एवं सीईओ जिला पंचायत से समूह की गतिविधियो पर चर्चा करते हुए अंबिकापुर जिले के तर्ज पर बटेर पालन से जुड़े कार्य करने का सुझाव भी दिया।

मधुक्खी पालन से शहद प्रसंकरण के कार्य का मंत्री टी.एस.सिंह देव ने की तारीफ

आजीविका परिसर में कृषि विज्ञान केन्द्र के सहयोग से महिला समूह द्वारा संचालित मधुमक्खी पालन के कार्य के बारे में छत्तीसगढ़ के पंचायत मंत्री टी.एस.सिंह देव ने समूह की दीदीयों से विस्तापूर्वक जानकारी ली मधुमक्खी पालन से जुड़ी समूह की सदस्य द्रोपती मानिकपुरी ने मंत्री को जानकारी देते हुए बताया कि कुल सौ बॉक्स में मधुमक्खियों को रखा गया है जिसमें एक बॉक्स की कीमत चार हजार रूपये है मधुमक्खी बॉक्स के अन्दर शहद का प्राकृतिक रूप से उत्पादन करते है

इस कार्य के लिए मधुमक्खी पालन का व्यवसाय शुरू किया गया पंद्रह से बीस दिनों में मधुरस विक्रय के लिए तैयार होने की जानकारी दी गई तथा बताया गया की इस अवधि में लगभग पांच किलो मधुरस एक बॉक्स में तैयार हो जाता है जो तीन सौ रूपये किलो की दर से बाजार मे विक्रय के लिए उपलब्ध हो जायेगा इस पर मंत्री ने प्रसन्ता व्यक्त करते हुए मधुमक्खी पालन का तारीफ करते हुए समूह की महिलाओं को बेहतर कार्य के लिए शुभकामनाएं दी।

 

समूह द्वारा निर्मित सामग्रियों को मंत्री टी.एस.सिंह देव ने खरीदा

मंत्री टी.एस.सिंह देव ने महिला समूह द्वारा उत्पादित सामग्री की तारिफ करते हुए 6 जुट बैग 1900 रूपये में, क्लीनिंग एजेंट हर्बल फिनायल 10 लीटर के 10 डिब्बे 400 रूपये में एवं 110 रूपये का साबुन सहित कुल 2410 रूपये का खरीदी किया गया मल्टीयुटीलीटी सेन्टर में स्थापित गांधी जी की प्रतिमा में माल्यार्पण करते हुए मंत्री टी.एस.सिंह देव ने सभी तेरह समूह की महिलाओं को फूल माला एवं उत्साह वर्धन करने के लिए 2100 रूपये की राशि दी।

कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि छत्तीसगढ़ के पंचायत मंत्री टी.एस.सिंह देव अपने अल्प प्रवास के दौरान भोरमदेव आजीविका परिसर एवं ग्राम राजानवागांव में बनाये गये गौठान का अवलोकन किया गया इस दौरान समूह की महिलाओं से विस्तार से जानकारी लेते हुए कार्यो के बारे में जाना और संचालित गतिविधियो की तारीफ की राजानवागांव के गौठान का अवलोकन करते हुए मंत्री टी.एस.सिंह देव ने स्थानीय ग्रामीणों से चर्चा कर पशुधन के लिए उपलब्ध सुविधाएं एवं छत्तीसढ़ शासन द्वारा चलाये जा रहें

सुराजी गांव योजना के बारे में जानकारी प्राप्त की जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजय दयाराम के. ने बताया कि भोरमदेव आजीविका परिसर में अन्दर एवं बाहर कुल 13 महिला स्व सहायता समूह कार्य कर रहीं है जिसमें 240 से अधिक महिलाएं आर्थिक गतिविधियों में जुड़ी हुई है

राजानवागांव में बनाये गौठान

आजीविका परिसर के बाहर सब्जी उत्पादन में 5 महिला समूह कार्य कर रही हैं इसी तरह आजीविका परिसर के अन्दर 8 महिला समूह विभिन्न सामग्रीयों का निर्माण कर रही है विभिन्न सामग्रीयों का निर्माण कर विक्रय करते हुए लाभ कमा रहीं है जिसके कारण ग्रामीण महिलाएं आत्मनिर्भर हो रही हैं उन्होंने बताया की राजानवागांव में बनाये गौठान का भी निरीक्षण मंत्री जी ने किया गौठान में वर्मी खाद्य निर्माण में लगे महिला समुह से चर्चा कर जानकारी प्राप्त की साथ ही बताया की वर्मी खाद्य की बिक्री दस रुपये किलो निर्धारित किया गया है इस दौरान गौठान प्रबंधन समिति से भी चर्चा किया गया

ज्ञात हो की भोरमदेव आजीविका परिसर का लोकार्पण कवर्धा विधायक एवं मंत्री मोहम्मद अकबर द्वारा गत माह किया गया है तथा उनके द्वारा भी महिलाओं के कार्यों की तारीफ कर आत्मनिर्भर की दिशा में और आगे बढ़ने के लिए मांग आधीरात गतिविधियों को जोड़ने की बात कही गई थी जिसके परिणाम स्वरूप नए कार्य जुड़ रहे है पंचायत मंत्री के भ्रमण के दौरान कलेक्टर, सीईओ ज़िला पंचायत, के साथ संबंधित विभागों के अधिकारी कर्मचारी, महिला समहू के सदस्यों के साथ ग्रामीण उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button