व्हाट्सएप पर मिलती थी कॉल गर्ल की फोटो, रिटायर्ड ASI के घर पुलिस ने मारा छापा, रह गए दंग

पुलिसकर्मी ग्राहक बनकर पहुंचे और किया सेक्स रैकेट का भंडाफोड़

छतरपुर: पुलिस ने छापा मारकर ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो व्हाट्सएप पर कॉल गर्ल के फोटो भेजकर ग्राहक बुलाता था. पुलिस ने छापा मारा तो पता चला कि ये गिरोह उसके ही विभाग के एक रिटायर्ड एएसआई के घर से चल रहा था. पुलिस के अनुसार कोतवाली अंतर्गत सौंरा रोड पर सेक्स रैकेट की सूचना मिली थी. इसके आधार पर पुलिसकर्मी ग्राहक बनकर पहुंचे और सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ कर दिया.

पुलिस ने 2 लड़कियों और 1 युवक सहित संचालक रिटायर्ड पुलिसकर्मी को गिरफ्तार किया है. इस रैकेट की मुख्य सरगना जो आंगनबाड़ी कार्यकर्ता है वह फरार है. जिस्मफरोशी का यह धंधा भी हाईटेक तरीके संचालित किया जा रहा था. संपर्क के लिए व्हाट्सअप पर हाय लिखकर भेजने पर लड़कियों के फोटो आ जाते थे. पुलिस ने भी इस नंबर पर ग्राहक बनकर कारोबार तक पहुंचने का प्रयास किया.

तीन पुलिस कर्मियों ने भी व्हाट्सएप के जरिए अपनी सहमति प्रदान की और ग्राहक बनकर पहुंचे. जैसे ही पुलिसवाले ग्राहक बनकर अंदर पहुंचे. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जयराज कुबेर की टीम ने मकान पर छापामार कार्रवाई कर दी. पुलिस ने मौके से मुंबई की दो युवतियों और 1 युवक सहित मकान मालिक रिटायर्ड एएसआई हरिसिंह राजपूत को गिरफ्तार किया है. इसके साथ ही पुलिस ने आपत्तिजनक सामान भी बरामद किया है.

Back to top button