छत्तीसगढ़

“मुहिम फ़ॉर फेयर इलेक्शन” युवा आप की पहल

रायपुर : राज्य की आम आदमी पार्टी के युवा इकाई ने “मुहिम फ़ॉर फेयर इलेक्शन” की घोषणा की है, इस मुहिम के तहत आप की युवा इकाई ने सबसे पहले छत्तीसगढ़ के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू को पत्र सौपा जिसकी प्रति उन्होंने भारत निर्वाचन आयोग के उपायुक्त उमेश सिन्हा को भी प्रेषित की है.

आप युवा विंग के अध्यक्ष डॉ सौरभ निर्वाणी ने अपने पत्र में निष्पक्ष चुनाव कराने के प्रयाशों की मंशा की सराहना करते हुए मांग रखी कि राज्य में पूर्व के चुनावों में चाहे वो लोकसभा के हो, विधानसभा के हो, नगरीय निकाय के अथवा त्रिस्तरीय पंचायती चुनाव हो, गांव शहरों में शराब बाटकर मतदाताओ को प्रभावित किया जाता है, चुकि शराब का विक्रय अब निजी हाथों में न होकर सीधे सरकार के हाथों मे है.

निर्वाचन आयोग यह तय कर दे कि मतदान तिथि के 7 दिन पूर्व उन क्षेत्रों में शराब का विक्रय पूर्णतः बंद हो जाये, साथ ही साथ इस पर भी कड़ी निगरानी हो कि चुनाव तिथि से पिछले 1 माह की औसत शराब की खपत में अचानक वृद्धि क्षेत्र के शराब दुकानों में न हो,अगर होना पाया जाए तो जिम्मेदार अधिकारियों पर कड़ी कार्यवाही हो,
निष्पक्ष चुनाव सुधार की दशा में यह बड़ा कदम हो सकता है, जो लोग लोकतंत्र के इस पर्व को शराब और अन्य माध्यमों से प्रभावित करना चाहते हैं उनके मंसूबो को ध्वस्त करने का समय है.

डॉ निर्वाणी ने बताया कि चुनावो में शराब बाटने की बन आयी अघोषित परंपरा को छत्तीसगढ़ में पूर्णतः बंद करने के लिए युवा आप का प्रतिनिधि मंडल राज्य भर में प्रभावी लोगो से मुलाकात कर मुहिम फ़ॉर फेयर इलेक्शन के लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरम लाल कौशिक, छजका सुप्रीमो अजित जोगी, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रान्त संघ चालक बिरसा राम यादव ,प्रेस क्लब अध्यक्ष, सभी समाज प्रमुखों, बुद्धजीवी संगठनों, चैम्बर आफ कामर्स सहित महिला, युवा एवम किसान संघो से मिलकर “मुहिम फ़ॉर फेयर इलेक्शन” के तहत मुलाकात कर राज्य में आदर्श चुनाव प्रक्रिया के लिए राज्यव्यापी मुहिम के लिए समर्थन मांगेंगे.

“मुहिम फ़ॉर फेयर इलेक्शन” के तहत शराब, पैसे,उपहार देने जैसे माध्यमो को इस चुनाव एवम आगामी सभी चुनावों में दूर करने यह मुहिम देश मे मिशाल प्रस्तुत कर आम चुनावों में धन बल के दुरुपयोग से लोकतंत्र को बचाने यह मुहिम है.

Tags