पांच साल बंधक रहने के बाद अब छूटे कनाडाई मूल के दंपत्ति

इस्लामाबादः पांच साल पहले जिस कनाडा मूल के पति और अमरीकी मूल की पत्नी को बच्चों समेत अफगानिस्तान के आतंकवादियों ने अगवा किया था। अब जाकर उन्हें छुड़वा लिया गया है। अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर कहा कि एफबीआई और डिप्लोमेट्स की कोशिशों के बाद आखिरकार केस खत्म हुआ और उन्हें सुरक्षित आजाद करा लिया गया है।

अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा कि ट्रंप प्रशासन और पाकिस्तान सरकार की कोशिशों के बाद इस परिवार को सुरक्षित बचा लिया गया। अमरीकी अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई पर दबाव डालने के बाद उन्होंने सुरक्षित सौंपा गया। बताया जाता है कि कोलमैन अपहरण के वक्त गर्भवती थी। एेसे में माना जाता है कि दंपत्ति के बंधक रहने के दौरान ही तीनों बच्चों का जन्म हुआ।

हक्कानी नेटवर्क द्वारा अगवा किए गए दंपति कैटलन कोलेमैन और जोशुआ बायले ने 2011 में शादी की थी। पाकिस्तानी सेना के अनुसार, इस ऑपरेशन की सफलता इंटेलिजेंस इनपुट को वक्त पर शेयर करने के महत्व को दर्शाता है इसके अलावा इससे आतंकवाद के खिलाफ जंग लड़ने के पाकिस्तान के समर्पण को भी दिखाता है।

वहीं, पाकिस्तान मिलिट्री ने बयान जारी कर कहा कि खुफिया आधारित ऑपरेशन के बाद आईएसआई ने पांचों बंधकों को आतंकवादियों की गिरफ्त से बरामद किया गया है, जिन्हें 2012 में अगवा कर लिया था। इनमें एक कनाडाई नागरिक, उसकी अमरीकी पत्नी और तीन बच्चे शामिल हैं।

1
Back to top button