वायु सेना में भर्ती के लिए अभ्यर्थी बहा रहे पसीना, प्रदेशभर से लिए हिस्सा

राजशेखर नायर:

धमतरी: जिले में भारतीय वायु सेना में भर्ती के लिए खुली रैली का आयोजन किया गया किया गया। इसके पहले चरण में प्रदेश भर के 13 जिलों के अभ्यर्थी रैली में शामिल होकर विभिन्न परीक्षणों के दौर से गुजरे। पहले चरण के पहले दिन आज 5 हजार से अधिक अभ्यर्थी रैली में हिस्सा लिये। प्राप्त जानकारी के अनुसार सुबह पांच बजे से ही इच्छुक अभ्यर्थी अपना भाग्य आजमाने पसीना बहा रहे हैं।

स्थानीय आमातालाब रोड स्थित पंढरीराव कृदत्त इनडोर स्टेडियम में आयोजित भर्ती रैली में अभ्यर्थियों के लिए प्रवेश द्वार बनाया गया है, जहां पर उन्हें टोकन वितरित कर परिसर में बैठाकर वायुसेना के अधिकारियों के द्वारा भर्ती प्रक्रिया की पूरी जानकारी दी गई। इसके उपरांत अभ्यर्थियों की ऊंचाई मापकर सत्यापन किया गया।

तत्पश्चात् उनके शैक्षणिक प्रमाण-पत्र, निवास प्रमाण-पत्र सहित एवं अन्य दस्तावेजों का परीक्षण सेना के अधिकारियों के द्वारा किया गया। प्रमाण-पत्र में किसी तरह की आशंका होने पर वहां राजस्व अधिकारियों से मौके पर ही परीक्षण कराया जाता है।

तत्पश्चात् अभ्यर्थी के शरीर पर टैटू आदि की जांच की जाती है, जिसके उपरांत उन्हें दौड़ में शामिल होने हेतु चेस्ट नंबर वितरित किया गया। इसके बाद अभ्यर्थियों (एक बार में 100 की संख्या में) 1600 मीटर की दौड़ में शामिल हुये।

द्वितीय चरण का शारीरिक परीक्षण

निर्धारित समय में दौड़ पूरी करने वाले अभ्यर्थियों को द्वितीय चरण का शारीरिक परीक्षण किया गया, जिसमें पुशअप, सीटअप व स्काॅट्स शामिल हैं। तत्पश्चात् इनमें सफल रहे अभ्यर्थियों की लिखित परीक्षा आयोजित की गई। लिखित परीक्षा एवं मेडिकल फिटनेस में सही सफल होने वाले अभ्यर्थियों को वायुसेना में भर्ती के लिए पात्र माना जाएगा।

जिले में पहली बार वायु सेना भर्ती रैली का आयोजन

उल्लेखनीय है कि कलेक्टर रजत बंसल की विशेष पहल पर जिले में पहली बार वायु सेना भर्ती रैली का आयोजन आज से किया जा रहा है, जिसमें प्रदेश भर के सभी 27 जिलों के अभ्यर्थी शामिल हो रहे हैं। जिला प्रशासन ने इसके लिए चार माह पहले से ही तैयारियां शुरू कर दी थीं। इसके अलावा जिले में इसका व्यापक प्रचार-प्रसार करके पात्र अभ्यर्थियों को चिन्हांकित कर उन्हें निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जा रहा है, जिसमें शारीरिक परीक्षण के साथ-साथ लिखित परीक्षा की भी तैयारियां कराई गईं। इसके लिए जिले के भूतपूर्व सैनिकों से भी सहयोग लिया गया। बाहर के जिले से आने वाले अभ्यर्थियों के ठहरने, भोजन, पेयजल सहित परिवहन की भी व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की गई है।

18 अक्टूबर तक आयोजित होने वाली वायुसेना भर्ती रैली के पहले चरण में 13 जिलों के अभ्यर्थी शामिल हो रहे हैं, जिनमें बालोद, बस्तर, बीजापुर, दंतेवाड़ा, दुर्ग, गरियाबंद, कांकेर, कोंडागांव, महासमुंद, नारायणपुर, रायगढ़, राजनांदगांव तथा सुकमा जिले के अभ्यर्थी शामिल हैं, जबकि इसके दूसरे चरण में 16 अक्टूबर से 14 जिले के अभ्यर्थी सम्मिलित होंगे।

इनमें धमतरी जिला सहित रायपुर, बलौदाबाजार, बलरामपुर, बेमेतरा, बिलासपुर, जांजगीर-चांपा, जशपुर, कवर्धा, कोरबा, कोरिया, मुंगेली, अम्बिकापुर (सरगुजा) तथा सूरजपुर जिला के अभ्यर्थी सम्मिलित होंगे। वायुसेना भर्ती रैली के चीफ कर्नल रिपुदमन सिंह ने जिला प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्था तथा सुगमता से शुरूआत किए जाने की सराहना की है।

Back to top button