कैप्टन को नहीं पसंद थी मेरी स्टाइल,ट्विट कर पूर्व कोच ने बताया

कुंबले ने मंगलवार देर रात ट्वीट कर अपने इस्तीफे की वजहों के बारे में बताया। कुंबले ने लिखा कि बीसीसीआई ने उन्हें एक दिन पहले ही यानी सोमवार को बताया कि कप्तान को उनकी शैली को लेकर कुछ दिक्कतें हैं और वह नहीं चाहते कि मैं हेड कोच के तौर पर टीम के साथ आगे भी जुड़ा रहूं। कुंबले ने साथ में यह भी लिखा कि वह बीसीसीआई से यह जानकर हैरान हुए। भारत के महान लेग स्पिनर और पूर्व कप्तान अनिल कुंबले की टीम इंडिया के कोच के तौर पर बेहद सफल पारी का कड़वा अंत हुआ है। कप्तान विराट कोहली के साथ मतभेदों के चलते उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।
कोच और कप्तान के बीच अहं के टकराव को खत्म करने की सारी कोशिशें बेकार गईं और आखिरकार जंबो ने इस्तीफा देना ही बेहतर समझा। वैसे तो इस कड़वे अंजाम की पटकथा उसी वक्त लिख गई थी जब विराट कोहली और अनिल कुंबले के रिश्तों में कड़वाहट की शुरुआत हुई। इंग्लैंड में चैंपियन्स ट्रोफी से इतर बीसीसीआई की सीएसी, जिसमें सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और सौरव गांगुली शामिल हैं, ने कुंबले और कोहली के बीच मतभेद दूर करने के लिए उनके साथ बैठक भी की थी लेकिन कोच और कप्तान के बीच सुलह की सारी कोशिशें आखिरकार नाकाम ही रहीं। पूरी चैंपियन्स ट्रोफी के दौरान अभ्यास सत्र में कुंबले और कोहली के बीच बमुश्किल बातचीत हुई। इस दौरान कुंबले को अधिकतर गेंदबाजों को अभ्यास कराते हुए देखा गया।

कुंबले अनुशासनप्रिय और सख्त प्रशासक

चैंपियंस ट्रोफी के बाद कुंबले का एक साल का कार्यकाल पूरा हो रहा था लेकिन बीसीसीआई ने अगले कोच की चयन प्रक्रिया में कुंबले को सीधा प्रवेश दिया था और माना जा रहा था कि अगर वह इच्छुक रहे तो उन्हें लगातार दूसरा कार्यकाल मिल सकता है। कुंबले और कोहली के बीच मतभेद की एक बड़ी वजह कुंबले का अनुशासन के प्रति सख्त रवैया भी माना जा रहा है। कुंबले अनुशासनप्रिय और सख्त प्रशासक हैं। वहीं, कोहली को लगा कि कोच अपनी मनमानी कर रहे हैं और अपने फैसले एकतरफा थोपने की कोशिश कर रहे हैं। इस्तीफा देने के बाद खुद कुंबले ने भी मंगलवार को कहा कि उन्हें बीसीसीआई से हाल में पता चला कि विराट कोहली को उनके काम करने की स्टाइल पसंद नहीं थी।

Back to top button