रायगढ़ वन विभाग के रेस्ट हाउस में नौ महीने से रेंजर का कब्जा

रायगढ़: वन मंडल रायगढ़ में गड़बड़ी व अधिकारियों के अवैध वसूली के कई मामले सामने आ चुके हैं। वहीं अब एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें जिला मुख्यालय के रेंजर ने विभाग के ही रेस्ट हाउस में पिछले नौ माह से कब्जा कर रखा है। रेंजर क्वार्टर में विभाग का अन्य अधिकारी काबिज है।
करीब नौ माह पहले रायगढ़ रेंजर के पद पर आरसी यादव ने पदभार ग्रहण किया। इस दौरान जिला मुख्यालय का रेंजर क्वार्टर खाली नहीं हुआ था। ऐसे में प्रांरभिक तौर पर कुछ दिन के लिए रेंजर आरसी यादव को रेस्ट हाउस में ठहरने कहा गया। वहीं नियमों के मुताबिक रेस्ट हाउस में ठहरने का एक निर्धारित समय होता है, लेकिन जिला मुख्यालय के रेंजर के लिए विभागीय अधिकारियों ने भी नियमों का उल्लघंन किया है। पिछले नौ माह से अधिक समय बीत गया है बावजूद इसके रेस्ट हाउस को न तो अधिकारियों ने रेंजर से खाली करवाया और न ही रेंजर आरसी यादव के रेस्ट हाउस के कमरे को खाली किया गया। इधर, विभाग में चर्चा है कि जिला मुख्यालय का रेंजर आरसी यादव विभाग के रेस्ट हाउस को कब्जा कर लिया है। इसकी जानकारी विभाग के बड़े अधिकारियों को है फिर भी कार्रवाई नहीं की जा रही है।

 रेंजर क्वार्टर में दूसरा काबिज
मुख्यालय रेंजर के क्वार्टर में विभाग का ही एक एसडीओ रैंक का अधिकारी आरके सिसोदिया काबिज है। हाल ही में वे एसडीओ के पद पर पदोन्नत हुए हैं। इससे पहले वे तमनार रेंज के प्रभार में थे। तमनार में पदस्थापना के बाद भी रायगढ़ रेंजर क्वार्टर को अपने कब्जे में रखे थे।

अप और डाउन में चल रहा काम
विभागीय जानकारों ने बताया कि रेंजर आरसी यादव का काम बिलासपुर से रायगढ़ अप और डाउन में चल रहा है। प्रत्येक शनिवार को वे अपने मुख्यालय से बिलासपुर घर चले जाते हैं और सोमवार को वापस आते हैं। बिना अनुमति अप और डाउन में ही उनका काम चल रहा है।
डीएफओ रायगढ़ वन मंडल विजया रात्रे रेस्ट हाउस विभागीय कर्मचारियों के लिए ही है और कामकाज प्रभावित न हो, इसके लिए वे रह सकते हैं। इसके लिए कोई समय सीमा नहीं है और बाहर जाने से वे छुट्टी लेकर जाते हैं।

advt
Back to top button