सीएआई का यूनिक एजुकेशनल स्ट्रक्चर बनाए करियर को सबसे बेहतर

- अनुभवी टीचर्स के साथ क्लियर करें 8वीं से 12वीं तक का सारा कांसेप्ट

इन्दौर:सीएआई ग्रुप का एजुकेशनल हब श्करियर एम्पलीफिकेशन इंस्टिट्यूट इंदौर, एजुकेशन सेक्टर में कई ख्यातियाँ प्राप्त करने के बाद अब एक बिल्कुल नए और यूनिक एजुकेशनल स्ट्रक्चर के साथ उतर रहा है, जहां स्टूडेंट्स को एक्सीलेंट कंटेंट उपलब्ध कराए जाने के साथ पीएलएस (पर्सनलाइज्ड लर्निंग सिस्टम) को भी बढ़ावा दिया जा रहा है।

यहां एक छत के नीचे ही छात्र-छात्राओं को अनुभवी टीचर्स के साथ 8वीं से 12वीं तक का एक मजबूत बेस तैयार करने और जेईई, नीट व सीए-सीएस जैसे कॉम्पिटेटिव एग्ज़ाम की विश्वस्तरीय तैयारी करने का मौका मिलता है। संस्था का प्रमुख आफिस 149-150 रेवेन्यू नगर, अन्नपूर्णा मेन रोड, दरगाह के सामने, इंदौर में हैं एवम इसकी बा्रंच अन्नपूर्णा, आरएनटी मार्ग, विजय नगर, सागौर कुटी, पर भी मौजूद हैं। सीएआई अपने स्टूडेंट्स को लैंग्वेज प्रोफिशिएंसी टेस्ट्स की सुविधा भी देती है।

संस्था का लक्ष्य भारत की सर्वश्रेष्ठ इंटीग्रेटेड इंस्टीट्यूट्स में शामिल होना है, जो सम्पूर्ण एजुकेशन सेक्टर की सबसे सटीक और अन्य संस्थानों से अलग जानकारियां मुहैया कराने में विश्वास रखती है। वहीं सीएआई स्टूडेंट्स के परफॉरमेंस को बेहतर बनाने के साथ उनके एटिट्यूड, एफिशिएंसी, रैंकिंग, सेल्फ डेवलपमेंट, पर्सनालिटी, इफेक्टिवनेस, मोरल वैल्यूज और एथिक्स को भी बेहतर बनाने के मिशन और ऑब्जेक्टिव के साथ आगे बढ़ रही है।

सीएआई इंदौर एक इंटीग्रेटेड कोचिंग इंस्टिट्यूट के रूप में प्रसिद्ध है, जिसके पास एक उच्च अनुभवी मेंटर्स की टीम मौजूद है, जो उपयुक्त कंटेंट देने की क्षमता तो रखते ही हैं, साथ ही लगभग हर बार अपने स्किल्स का हुनर रिजल्ट के रूप में पेश करने में भी कामयाब रहे हैं।

सीएआई प्रमोटर सीए आकाश मित्तल के मुताबिक, ष्किसी भी बड़े मुकाम को हासिल करने के लिए हमें शुरू से ही कड़ी मेहनत और विज़न को साफ रखना होता है। बच्चों का बेस मजबूत हो तो उन्हें कॉम्पिटिटिव एक्ज़ाम्स को क्रैक करने में आसानी हो जाती है और पहली बार में ही बेहतर परिणाम देखने को मिलते हैं। हम सीएआई में बच्चों को स्कूली एजुकेशन का कांसेप्ट क्लियर कराने के साथ उन्हें आगे भविष्य के लिए भी तैयार कर रहे हैं, ताकि वह अपने भविष्य को सशक्त बनाने में खुद की मदद कर सकें।

एक अन्य प्रमोटर सीए अक्षत बहेती के मुताबिक, ष्एग्जाम के पहले ज्यादातर स्टूडेंट्स की आदत होती है कि वो तैयारी के लिए अलग-अलग किताबें पढ़ते हैं, लेकिन नीट या जेईई जैसे एक्ज़ाम्स की तैयारी करने वाले स्टूडेंट्स को इस बात का ध्यान नहीं रहता कि ज्यादा तरह की किताबों को पढ़ने से दिमाग भटकता है और वह कंसन्ट्रेट नहीं कर पाते हैं। हम अपने कोचिंग इंस्टिट्यूट में इन सारी बातों का ख्याल रखते हैं और उन्हें एक्ज़्ााम्स से आगे इंटरव्यूज के लिए भी तैयार करते हैं।

सीआईए फैकल्टीज के साथ एक महत्वपूर्ण चीज यह भी है कि वह अपने-अपने सब्जेक्ट्स की डीप नॉलेज रखने के साथ स्टूडेंट्स को थ्यौरी और प्रेक्टिकल दोनों का सम्पूर्ण मिश्रण देते हुए उन्हें अपने प्रभावशाली व्यक्तिगत शिक्षण प्रणाली के माध्यम से एक बिग स्कोर हासिल करने में सहायक रहते हैं। यहां आपको अपडेटेड एग्ज़ाम पैटर्न, सिलेबस, करंट अफेयर्स आदि के बारे में पूरी जानकारी देने का वादा किया जाता है।

Back to top button