क्राइमबड़ी खबरराष्ट्रीय

बच्‍चों से न्‍यूड शरीर पर पेंटिंग बनवाने के आरोप में ‘मॉडल’ रेहाना फातिमा पर केस दर्ज

रेहाना के अनुसार, उन्‍होंने इस वीडियो को इसलिए बनाया कि महिलाओं को सेक्स और अपने शरीर के बारे में खुलकर बात करने की जरूरत है।

नई दिल्‍ली:

केरल में पथानामथिट्टा जिले के तिरुवल्ला पुलिस ने विवादास्पद पूर्व ‘मॉडल’ रेहाना फातिमा के खिलाफ केस दर्ज किया है। ‘किस फॉर लव’ जैसी कैम्‍पेन चलाने वाली और सबरीमला में जबरदस्‍ती घुसने का प्रयास करने वाली रेहाना ने इस बार अपने अर्द्ध नग्न शरीर पर बच्चों से पेंटिंग बनवाने का एक वीडियो पोस्ट किया है, जिसके बाद उनपर कार्रवाई की गई है।

केरल पुलिस ने किशोर न्याय अधिनियम और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की गैर-जमानती धारा 67 (इलेक्ट्रॉनिक रूप से यौन सामग्री प्रसारित करना) के तहत उनपर केस दर्ज किया है। विवादास्पद एक्टिविस्ट रेहाना फातिमा ने 19 जून को अपने यूट्यूब चैनल पर 2:00 मिनट का वीडियो पोस्ट किया, जहां वह बिस्तर पर लेटी हुई दिखाई दे रही है, जबकि बच्चे उनके नग्‍न शरीर पर पेंट कर रहे हैं। उसने अपने फेसबुक पेज पर हैशटैग #BodyArtPolitics के साथ भी इसे अपलोड किया।

रेहाना के अनुसार, उन्‍होंने इस वीडियो को इसलिए बनाया कि महिलाओं को सेक्स और अपने शरीर के बारे में खुलकर बात करने की जरूरत है। अपनी फेसबुक पोस्ट में रेहाना लिखती हैं कि ‘कोई भी बच्चा जिसने अपनी मां की नग्नता और शरीर को नहीं देखा है, वह महिला शरीर का दुरुपयोग कर सकता है।

रेहाना फातिमा और उसके विवाद

पिछले महीने बीएसएनएल अधिकारियों द्वारा जांच के बाद फातिमा को नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया था। उसके फेसबुक संदेशों ने सांप्रदायिक तनाव पैदा कर दिया था और उसने सेवा नियमों का उल्लंघन किया था।
पिछले 18 महीनों से बीएसएनएल द्वारा उसकी अपमानजनक तस्वीरों और वीडियो के बारे में जनता से शिकायतें मिलने के बाद वह निलंबित चल रही थी, जिससे धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची थी।
विवादास्पद कार्यकर्ता रेहाना फ़ातिमा ने पवित्र सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने की कोशिश करने के बाद एक बड़ा विवाद खड़ा कर दिया था।

2018 में पठानमथिट्टा पुलिस ने सबरीमाला अचरा समृद्धि समिति द्वारा सोशल मीडिया पोस्ट डालने के लिए एक शिकायतकर्ता के बाद रेहाना फातिमा के खिलाफ मामला दर्ज किया था जो कि प्रकृति में ‘सांप्रदायिक रूप से विभाजनकारी’ थीं।
स्व-घोषित कार्यकर्ता को उसकी गतिविधियों के लिए केरल मुस्लिम जामैथ काउंसिल द्वारा मुस्लिम समुदाय से निष्कासित भी किया गया था।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button