सोशल मीडिया पर भ्रामक तथ्य फैलाने के आरोप में कांग्रेस नेता पर मुकदमा दर्ज

मेरठ पुलिस के आला अधिकारियों को इसका पता चला तभी से इस मामले की पड़ताल शुरू कर दी गई

लखनऊ: पश्चिम उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के हालात का जायजा लेने के लिए मेरठ दौरे पर आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बिजौली गांव का दौरा किया. यहां उन्होंने कंटेनमेंट जोन के बाहर खड़े होकर कोरोना संक्रमित शख्स के परिजनों से सरकार की व्यवस्थाओं के बारे में पूछा.

इस दौरान कांग्रेस नेता ओमवीर यादव ने सोशल मीडिया पर कंटेनमेंट जोन के लिए लगी बैरिकेडिंग को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का विरोध बता डाला. इसके बाद इस मुद्दे पर कांग्रेस को काफी ट्रोल भी होना पड़ा. जैसे मेरठ पुलिस के आला अधिकारियों को इसका पता चला तभी से इस मामले की पड़ताल शुरू कर दी गई.

मेरठ पुलिस द्वारा मामले की जांच पड़ताल के बाद पता लगा कि सबसे पहले यह वीडियो कांग्रेस नेता ओमवीर यादव ने वायरल किया था. जिसके बाद कांग्रेस के आला नेताओं ने भी इसे मुद्दा बनाने की कोशिश की, लेकिन चूंकि मामला झूठा था और सोशल मीडिया पर फैलाए गए तथ्य भ्रामक थे.

इसीलिए साजिश सफल नहीं हो सकी. एसपी देहात केशव कुमार मिश्रा ने बताया कि मेरठ पुलिस ने थाना खरखौदा में मुकदमा दर्ज कर लिया है. यह मुकदमा आईटी एक्ट और भ्रामक बातें फैलाने के आरोप में दर्ज किया गया है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button