छत्तीसगढ़

किसान आंदोलन को अर्बन नक्सल समर्थित आँदोलन बताने का मामला

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा माफी मांगे बृजमोहन अग्रवाल

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेष नितिन त्रिवेदी ने कृषि कानून के विरोध में चल रहे किसान आंदोलन को..अर्बन नक्सल समर्थित आँदोलन बताने के कथित बयान के लिए..भाजपा के पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल से मांफी मांगने की मांग की है..। शैलेष नितिन त्रिवेदी ने कहा कि बृजमोहन अग्रवाल खेती की इतनी भी समझ नहीं रखते कि किसान शहर या अर्बन इलाकों में नहीं रहते बल्कि ग्रामीण ईलाकों में रहते हैं..।

दरअसल, सोमवार को एक प्रेस कांफ्रेस में पूर्व कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि केंद्र सरकार का नया कृषि कानून किसानों के हित में हैं..। लेकिन कुछ दल और विरोधी किसानों को बरगला कर उन्हें गुमराह कर रहे हैं..। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन में उमर खालिद, शरजिल इमाम, बरबरा राव जैसे टुकड़े टुकड़े गैंग के लोगों की तस्वीर दिखना किस बात की ओर ईशारा करता है, उसे समझने की आवश्यकता है..।

उनके इसी बयान के बाद शैलेष नितिन त्रिवेदी का बयान सामने आया। अपने बयान में शैलेष नितिन त्रिवेदी ने देश के किसान की हर समस्या के लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराया। राजीव गांधी न्याय योजना को किसानों के प्रति अन्याय योजना बताने पर भी उन्होंने बृजमोहन अग्रवाल की तीखी आलोचना की और कहा कि बिहार में किसानों को धान के 400 से 500 रुपये प्रति क्विंटल ही मिलते हैं..। वहां सत्ता में होने पर क्या भाजपा वहां के किसानों के साथ न्याय करेगी..।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button