चर्चित गौरवपथ का मामलाः जिम्मेदार अफसरों को बचाने की कवायद

अंकित मिंज

बिलासपुर।

लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियंता ने संचालनालय नगरीय प्रशासन विभाग के मुख्य अभियंता को पत्र भेजकर गौरव पथ निर्माण में संलग्न ठेकेदार मेसर्स सांई कंस्ट्रक्शन एवं मेसर्स अग्रवाल इंफ्रा बिल्ड प्राइवेट लिमिटेड को डिमोशन और डिरजिस्ट्रेशन करने की सूचना जारी की है।

जारी फरमान इतना गोलमोल है कि नीचे केवल मेंसर्स साइं कंस्ट्रक्शन के पंजीयन को निलंबित करने की जानकारी दी गई है। वहीं इस मामले में हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद जिम्मेदार अफसरों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

बताया जाता है कि गौरवपथ में मंगला चौक से सेंट फ्रांसिस अमेरी फाटक चौक तक सांई कंस्ट्रक्शन और सेंट फ्रांसिस स्कूल चौक से लेकर महाराणा प्रताप चौक तक मेसर्स अग्रवाल इंफा बिल्ड ने निर्माण कार्य कराया था। इसके बाद तीसरी एजेंसी सिंप्लेक्स कंपनी ने यहां सीवरेज की खुदाई का कार्य कराया। सीवरेज कार्य पूर्ण होने के बाद यहां डामरीकरण का कार्य सांई कंस्ट्रक्शन को दिया गया।

इसके बाद अमेरी चौक के पास सड़क धंस गई जिससे पांचवी एजेंसी से दुरुस्त कराया गया। लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियंता ने इस मामले में आरोपित सात अफसरों, सिंप्लेक्स कंपनी और दो अन्य निर्माण एजेंसियों को दरकिनार करते हुए केवल सांई कंस्ट्रक्शन और मेंसर्स अग्रवाल इंफा के खिलाफ पंजीयन को निलंबित करने की कार्रवाई कर इसकी सूचना से संचालनालय को दी गई है।

1
Back to top button