थाना कटघोरा की बड़ी कार्यवाही, आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में दो महिला सहित दो युवाओं पर धारा 306, 34 का मामला दर्ज

अरविन्द शर्मा:

कटघोरा: थाना कटघोरा की बड़ी कार्यवाही देखने को मिली है।आत्महत्या के लिए उकसाने के एक मामले पर युवा नेता सहित तीन अन्य आरोपियों पर मामला दर्ज किया गया है। आरोपियों ने अपाहिज मृतक को प्रताड़ित करने में कोई कसर नही छोड़ी थी अंततः मृतक इनके प्रताड़ना से तंग आकर सुसाइड नोट लिख अपनी इहलीला समाप्त कर ली।सुसाइड नोट के आधार पर कटघोरा पुलिस ने धारा 306,34 भादवि का मामला पंजीबद्ध कर आरोपियों की गिरफ्तारी की तथा माननीय न्यायालय के आदेश पर जेल भेज दिया है जिसमे एक आरोपी फरार है।

गौरतलब है कि कटघोरा निवासी मृतक बलविंदर सिंह दिनांक 22/01/2021 की प्रातः 8 बजे से 10 बजे के मध्य सुसाइड नोट लिखकर अपने घर के म्यार में रस्सी से फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया था।उक्त घटना के दौरान घर में कोई भी मौजूद नही था।सुसाइड नोट में मृतक ने अपने किराएदार संजय यादव तथा संजय यादव की देड़सास,पूर्णिमा यादव तथा संजय यादव की सास,यशोदा यादव के मकान खाली नही करने तथा किराया नही देने की बात को लेकर आएदिन प्रताड़ित करने तथा नेता आकाश शर्मा द्वारा भी आरोपियों का पक्ष लेने की बात को लेकर उक्त चारो के खिलाफ सुसाइड नोट लिखकर आत्महत्या कर लिया था।

उक्त मामले को लेकर कटघोरा थाना में मर्ग क्र 11/2021 कायम कर जांच किया जा रहा था।जांच के दौरान गवाहों के बयान, पीएम रिपोर्ट,घटना स्थल निरीक्षण से आरोपियों के द्वारा मृतक को प्रताड़ित करने की बात की पुष्टि होने पर दिनांक 20/02/2021 को मामले में अपराध क्र 52/2021 धारा 306,34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय के आदेश पर जेल दाखिल किया गया है।मामले का चौथा आरोपी आकाश शर्मा घटना दिनांक से फरार है। थाना प्रभारी अविनाश सिंह ने बताया कि मामले में प्राप्त सुसाइड नोट की हस्तलिपि विशेषज्ञ से जांच कराने हेतु रायपुर भेजी गई है जिसकी रिपोर्ट अभी अप्राप्त है।

मृतक बलविंदर (अपाहिज) सिंह की भाभी बांकीमोंगरा निवासी श्रीमती निर्मला राजपूत ने थाना कटघोरा में उक्त आरोपियों को लेकर निष्पक्ष जांच की मांग की थी।जिसपर थाना प्रभारी अविनाश सिंह ने उक्त मामले की गम्भीरता को समझते हुए निष्पक्ष जांच का आश्वासन देकर जांच करनी शुरू कर दी।जांच में सुसाइट नोट के आधार पर शुरू की गई जिसमें सही साक्ष व गवाहों के आधार पर मामला पंजीबद्ध किया गया तथा आरोपियों की गिरफ्तारी कर जेल भेज दिया गया जिसमें एक आरोपी आकाश शर्मा घटना दिनांक से फरार है पुलिस संभावित ठिकानों पर दबिश देकर आरोपी की तलाश कर रही है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button