छत्तीसगढ़

खुरमुड़ा हत्याकांड में हो सीबीआई जांच : अमित जोगी

राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री स्व अजीत जोगी के सुपुत्र, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व विधायक अमित जोगी आज दुर्ग जिला स्थित ग्राम खुरमुड़ा पहुंचे जहां उन्होंने खुरमुड़ा हत्याकांड में एक ही परिवार के 4 सदस्यों की हत्या होने के बाद पीड़ित और आश्रित परिवार वालों से मिले।

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा

रायपुर : राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री स्व अजीत जोगी के सुपुत्र, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व विधायक अमित जोगी आज दुर्ग जिला स्थित ग्राम खुरमुड़ा पहुंचे जहां उन्होंने खुरमुड़ा हत्याकांड में एक ही परिवार के 4 सदस्यों की हत्या होने के बाद पीड़ित और आश्रित परिवार वालों से मिले। इस दौरान सरपंच धर्मेंद्र सोनकर व ग्रामीणों ने आश्रितों के साथ आपबीती और गांव की समस्याओं से अमित जोगी को अवगत कराया।

ग्रामीणों व आश्रित परिवार से भेंट अमित जोगी ने खुरमुड़ा हत्याकांड की सीबीआई से जांच की मांग करते हुए कहा छत्तीसगढ़ में अराजकता आ गई है, भूपेश राज्य में अपराधियों को खुली छूट मिल गई है इसलिए खुरमुड़ा जैसी वारदात हुई। अमित जोगी ने कहा जब मुख्यमंत्री जी के विधानसभा क्षेत्र का यह हाल है तो छत्तीसगढ़ का क्या होगा अंदाज लगाया जा सकता है।

भूपेश राज में आम जनता अपने आप को डरा, सहमा और असुरक्षित महसूस कर रहा

छत्तीसगढ़ के कोने कोने में शहर से लेकर गांव तक अपराधी अपना पैर पसार रहे है, और लगातार अपराध को अंजाम दे रहे हैं। भूपेश राज में आम जनता अपने आप को डरा, सहमा और असुरक्षित महसूस कर रहा है। अमित जोगी ने कहा छत्तीसगढ़ की ढाई करोड़ जनता ने भूपेश बघेल को इसलिए सत्ता नहीं सौंपा था की शांति के टापू छत्तीसगढ़ को अपराध का टापू बनाएं।

सरपंच धर्मेंद्र सोनकर व ग्रामीणों ने अमित जोगी बताया खुरमुड़ा अपराध का केंद्र बन चुका है जहां पर आए दिन किसानों के पंप, केबल और बिजली वायर की लगातार चोरी होती रहती है इसी तरह गांव के आसपास ही शराब की भट्टियां होने से असामाजिक तत्वों के द्वारा नशापान कर ग्रामीणों को आतंकित करते हैं और इससे अपराध को बढ़ावा मिलता है।

जिसकी शिकायत स्थानीय सरपंच एवं ग्रामीणों ने पुलिस को अनेकों बार किया और लगातार पेट्रोलिंग करने का भी आग्रह किया लेकिन पुलिस के उदासीनता के कारण आज क्षेत्र में अपराध नहीं रुका और अंततः एक ही परिवारों के 4 लोगों की जान चली गई और 4 बच्चे अनाथ हो गए जिसके लिए सरकार जिम्मेदार है। अमित जोगी ने पीड़ित और आश्रित 4 नाबालिक बच्चों को 4 माह का विधायक पेंशन एफडी देने की घोषणा की है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button