सीबीएसई ने निजी स्कूल कैंपस में किताब बेचने पर दी छूट

एनसीईआरटी के अलावा निजी प्रकाशकों की किताबें रखने की भी छूट होगी

लखनऊ। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ने निजी स्कूलों को कैंपस में दुकान खोलकर किताबें बेचने की छूट दे दी है।

इसमें एनसीईआरटी के अलावा निजी प्रकाशकों की किताबें रखने की भी छूट होगी, हालांकि यह भी स्पष्ट किया गया है कि स्कूल दुकान खोलकर किसी भी अभिभावक पर वहीं से किताबें खरीदने के लिए दबाव नहीं बनाएंगे।

इसके लिए सीबीएसई की ओर से सर्कुलर जारी किया गया है। इसमें कहा गया कि यह आदेश दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश के अनुपालन में जारी किया गया है।

जबकि यह प्रदेश सरकार की नियमावली के बिल्कुल विपरीत है। ऐसे में सीबीएसई के सर्कुलर पर विवाद शुरू हो गया है।

शिक्षा विभाग के अधिकारियों का कहना है कि लखनऊ में प्रदेश सरकार की नियमावली ही लागू होगी। अगर कोई स्कूल इसका उल्लंघन करेगा तो कार्रवाई होगी।

प्रदेश सरकार के आदेश के मुताबिक, स्कूल कैंपस से कोई व्यावसायिक गतिविधि नहीं कर सकते।

इसके उलट सीबीएसई की ओर से जारी सर्कुलर में कहा गया है कि स्कूल कैंपस में किताबें, यूनिफॉर्म और स्टेशनरी के लिए छोटा आउटलेट खोल सकते हैं।

यह सिर्फ सुविधा मात्र होना चाहिए। स्कूल परिसर के बाहर भी किसी वेंडर से किताबें और यूनिफॉर्म खरीदने के लिए दबाव नहीं बनाएंगे।

इसके अलावा स्कूलों को सत्र शुरू होने से पहले क्लासवार वेबसाइट पर किताबों का ब्योरा अपलोड करना होगा।

Back to top button