(सीबीएसई) स्टूडेंट्स ऐसे करें मैथमेटिक्स की तैयारी

दूसरे रिफ्रेंस बुक्स की अपेक्षा सब्जेक्ट्स के क्वेश्चन बैंक्स अधिक फायदेमंद

नई दिल्लीः

(सीबीएसई) 2019 परीक्षा को लेकर छात्रों ने अभी से ही इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं, दूसरी तरफ केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने भी छात्रों के लिए कई तरह के टिप्स जारी किए हैं। गौरतलब हैं कि, हर बार की तरह इस बार भी परीक्षा फरवरी में शुरू हो जाएगी।

बता दें कि पिछले साल करीब 16 लाख स्टूडेंट्स 10वीं बोर्ड एग्जाम में शामिल हुए थे। इस साल भी करीब इतने ही स्टूडेंट्स के इस परीक्षा में शामिल होने की उम्मीद जताई जा रही हैं।

स्टूडेंट्स जल्द से जल्द बोर्ड परीक्षा के लिए तैयारी शुरू कर दें जिससे वे अच्छे नंबरों से पास हो सकें। लेकिन अच्छी तैयारी करने के लिए ये जरूरी हैं कि आपको पेपर के पैटर्न की भी अच्छी तरह से जानकारी हो।

मैथ्स एक ऐसा विषय हैं जो कुछ स्टूडेंट्स को कठिन लगता हैं, लेकिन अगर सही तरीके से तैयारी की जाए तो ये सबसे ज्यादा नंबर दिलाने वाला सबजेक्ट हैं। अगर आप अभी से इसकी तैयारी में जुट गए तो इसमें डिस्टिंक्शन लाने से आपको कोई नहीं रोक सकता, लेकिन पहले ये देख लें कि किस टॉपिक से कितने नंबरों का सवाल पूछा जाएगा।

कॉर्डिनेट ज्योमेट्री- 6 नंबरों के सवाल

ज्योमेट्री- 15 नंबर के सवाल

ट्रिगनोमेट्री- 12 नंबर के सवाल

मेंसुरेशन- 10 नंबर के सवाल

स्टेटिस्टिक्स और प्रोबेबिलटी- 11 नंबरों के सवाल

कुल मार्क्स- 80

ऐसे करें मैथमेटिक्स की तैयारी

ज्यादा नहीं बल्कि स्मार्ट तरीके से पढ़ाई करने से ही आप बोर्ड परीक्षा में अच्छे नंबर ला सकते हैं। जिन टॉपिक्स से सबसे ज्यादा नंबरों के सवाल पूछे जाएंगे उन पर अपनी पकड़ मजबूत बना लें।

कहा जाता है कि प्रैक्टिस से आप परफेक्ट बन सकते हैं। ये मंत्र मैथमेटिक्स के लिए बिलकुल सटीक बैठता है। इस विषय में आप जितना ज्यादा प्रैक्टिस करेंगे उतना ही परीक्षा हॉल में आप बेहतर कर पाएंगे।

फॉर्मूला और टेबल्स का प्रिंट आउट कराकर अपने रूम में चिपका लें और आते-जाते उस पर नजर दौड़ाते रहें। ध्यान रखें कि फॉर्मूला और टेबल्स का फॉन्ट थोड़ा बड़ा हो जिससे आप दूर से भी इसे पढ़ सकें।

स्टूडेंट्स एक बार एनसीईआरटी बुक्स खत्म करने के बाद बाजार में मौजूद दूसरे रिफ्रेंस बुक्स का रुख करते हैं लेकिन एक्सपर्ट और टीचर्स का कहना हैं कि सीबीएसई बोर्ड एग्जाम का पूरा पेपर एनसीईआरटी के टेक्स्टबुक्स से सेट होता हैं। एक बार पूरी बुक खत्म करने के बाद फिर से उसकी प्रैक्टिस आपके लिए ज्यादा फायदेमंद रहेगी।

कई स्टूडेंट्स को ये पता नहीं होता कि एनसीईआरटी अधिकतर सब्जेक्ट्स के क्वेश्चन बैंक्स भी जारी करती हैं। मार्केट में उपलब्ध दूसरे रिफ्रेंस बुक्स की अपेक्षा उससे प्रैक्टिस करना स्टूडेंट्स के लिए अधिक फायदेमंद होता हैं।

1
Back to top button