जॉब्स/एजुकेशनराष्ट्रीय

दुसरे राज्य में फंसे सीबीएसई के छात्र को तय परीक्षा केंद्र पर आने की जरूरत नहीं: रमेश निशंक

केंद्र के इस फैसले का शिक्षकों और पालकों ने स्वागत किया

नई दिल्ली: सीबीएसई के 10वीं और 12वीं के ऐसे छात्र जो लॉकडाउन के दौरान दूसरे राज्य या जिले में चले गए हैं , उन्हें परीक्षा देने के लिए पहले तय किए गए परीक्षा केंद्र पर आने की जरूरत नहीं है। यह बात केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कही।

दरअसल लॉकडाउन के दौरान और उससे पूर्व कई छात्रों ने अपना हॉस्टल छोड़ अपने घरों का रुख कर लिया था। कोरोना संक्रमण से छात्रों को बचाने के लिए देश के तमाम राज्यों में कई शैक्षणिक संस्थानों ने अपने हॉस्टल खाली करा दिए थे। उन छात्रों को उनके घरों और परिजनों के पास भेज दिया गया था। ऐसे छात्रों के लिए सरकार ने बड़ी राहत दी है।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने फैसला लिया है कि ऐसे छात्र जहां हैं वहीं से बोर्ड की परीक्षाएं दे सकेंगे। उन्होंने कहा कि ऐसे छात्रों को अपने स्कूल को इसकी जानकारी देनी होगी। मानव संसाधन मंत्री ने कहा कि जून के पहले सप्ताह में छात्रों को इस बात की जानकारी दे दी जाएगी कि उन्हें किस स्कूल में परीक्षा देने जाना होगा।

केंद्र के इस फैसले का शिक्षकों और पालकों ने स्वागत किया है।

Tags
Back to top button