कोरबा अंचल में हर्षोल्लास के साथ मनाया हरेली का त्यौहार

कुमार सुनील

कोरबा।

छत्तीसगढ़ के साथ आज उद्योगी जिला कोरबा में भी हरियाली अर्थात हरेली का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।
गांव-गांव में हो रही है किसानी खेती में आने वाले औजारों की पूजा और लोग चल रहे हैं गेड़ी में यह है हरेली का त्योहार हरियाली महोत्सव का महत्वपूर्ण अंग।

हरेली का त्यौहार छत्तीसगढ़ की संस्कृति और परंपराओं का मिलाजुला का उच्चतम स्वरूप है जिसके अंतर्गत छत्तीसगढ़ के गांव-गांव में आज के दिन किसान अपने नांगल और हल अन्य यंत्रों सामानों की पूजा करते हैं।

आज हरेली के त्यौहार के दिन लोग घर में नागर एवं अन्य यंत्र की पूजा करते हैं घर में पकवान पूरी बनाया जाता है और पूजा भी की जाती है। आज का दिन छत्तीसगढ़ में अपने आप में सांस्कृतिक धरोहर के रूप में है। आज ही के दिन नारियल बाजी खेल प्रतियोगिता भी गांव-गांव में खेली जा रही है।

हमारे संवाददाता ने अनेक लोगों से बात की और लोगों ने बताया कि हरेली हरियाली त्यौहार का क्या महत्व है यह बात भी सामने आई है कि आज के दिन बैगा और तांत्रिक नग्न अवस्था में करते हैं शक्ति अर्जन पूजा पाठ।

Back to top button