केंद्र सरकार ने छत्तीसगढ़ से चावल लेने से किया इनकार, पढ़े पूरी खबर

इस संबंध में राज्य सरकार को केन्द्र सरकार की तरफ से एक पत्र मिला

रायपुर: पिछले साल तक केन्द्र सरकार छत्तीसगढ़ से अरवा और उसना चावल मिलाकर 24 लाख मीट्रिक टन चावल खरीदने वाली थी, जिसे राज्य सरकार 32 लाख टन करने की मांग की।

लेकिन केन्द्र सरकार ने खरीदी का कोटा बढ़ाने की बजाय खरीदी पर ही रोक लगा दी है। यानि केन्द्र सरकार ने साफ किया है कि राज्य सरकार को या तो बोनस देना बंद करना होगा या केन्द्र से चावल खरीदने की आशा रखनी होगीं। अगर ऐसा हुआ तो प्रदेश में धान खरीदी पर संकट गहरा सकता है।

इस संबंध में राज्य सरकार को केन्द्र सरकार की तरफ से एक पत्र मिला है। इस पत्र में केन्द्र सरकार ने राज्य सरकार को कहा है कि अगर राज्य सरकार धान खरीदी पर किसानों को बोनस देगी तो केन्द्र सरकार चावल की खरीदी नहीं करेगी।

केन्द्र के इस निर्णय के बाद राज्य सरकार के सामने धान खरीदी को लेकर संकट पैदा हो गया है। क्योंकि राज्य सरकार ने इस बार 87 लाख मीट्रिक टन धान खरीदी का लक्ष्य रखा है।

Back to top button