स्मार्ट सिटी के हेरिटेज वॉक में शामिल हुए केंद्रीय सचिव

स्मार्ट सिटी के इन ऐतिहासिक स्थलों की खासियत व अनेक गतिविधियों की जानकारी ली।

रायपुर : भारत सरकार के आवासन व नगरीय मामलों के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा रायपुर स्मार्ट सिटी द्वारा सप्ताहांत आयोजित होने वाले हेरिटेज वॉक में आज शामिल हुए।

शहर के ऐतिहासिक विरासतों का पैदल भ्रमण कर उन्होंने जड़ों से जुड़कर अपनी विरासत को सहेजने व इससे सभी को अवगत कराने की मोर रायपुर क्लब रायपुर स्मार्ट सिटी की इस पहल की सराहना की।

स्वैच्छिक सेवा देने वाले वालंटियर्स व मोर रायपुर क्लब के सदस्यों से भी उन्होंने मुलाकात की। नगरीय प्रशासन के सचिव रोहित यादव, संचालक निरंजन दास, नगर निगम आयुक्त रजत बंसल भी इस दौरान उनके साथ थे।

ऐतिहासिक विरासत से आम लोगों को अवगत कराने आयोजित होने वाले हेरिटेज वॉक में शामिल होकर सचिव श्री मिश्रा ने बूढ़ा तालाब, किले वाले बाबा, बूढ़ेश्वर मंदिर, शीतला माता मंदिर, महामाया मंदिर, नागरीदास मठ, महावीर व्यायाम शाला, हनुमान जी की बावली, जैतुसाव मठ व टूरी हटरी तक पैदल भ्रमण किया।

इन स्थलों की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि को जानकर मिश्रा जी अत्यधिक प्रभावित हुए। रायपुर के समृद्ध विरासत की पहचान इन स्थलों पर मंदिर प्रबंधन ने सचिव मिश्रा सहित अधिकारियों की अगवानी की एवं विशेष पूजा अर्चना की।

जैतुसाव मठ में संस्कृत भाषा में ज्ञानार्जन कर रहे विद्यार्थियों ने वैदिक मंत्रों व श्लोक वाचन कर मंदिर की परिक्रमा कराई। नागरीदास मठ में संचालित मूक बधिर शाला के संचालन से भी मिश्रा प्रभावित हुए।

भ्रमण के दौरान उन्होंने मोर रायपुर क्लब की गतिविधियों की जानकारी ली। उन्हें बताया गया कि रायपुर के प्रतिष्ठित महाविद्यालय के छात्र-छात्राएं शहर के विकास में अपनी सक्रिय भूमिका का निर्वहन कर रहें है।

इस क्लब में एन.एस.एस. व समाज सेवी संगठन से जुड़े युवा विभिन्न जनचेतना कार्यक्रमों में रायपुर स्मार्ट सिटी का स्वस्फूर्त प्रतिनिधित्व करते है। सचिव मिश्रा ने नगर विकास में इन युवाओं की सक्रिय सहभागिता की सराहना करते हुए

कहा कि स्वैच्छिक सेवा देने वाले हेरिटेज वालंटियर्स व मोर रायपुर क्लब आम लोगों को जड़ों से जोड़ने का जो प्रयास कर रहे हैं वह रायपुर स्मार्ट सिटी को विशेष पहचान देता है।

इन प्रयासों से बाहर से आने वाले पर्यटकों व रायपुर में निवासरत लोगों को अपनी संस्कृति, सभ्यता व संस्कारों को करीब से जानने का अवसर मिलता है। हेरिटेज वॉक में शामिल सभी सदस्यों ने छत्तीसगढ़ी व्यंजनों का आनंद भी लिया और खानपान,

लोककला, संस्कृति से समृद्ध छत्तीसगढ़ के गौरवशाली अतीत पर विस्तार से चर्चा की। सचिव मिश्रा सहित सभी अधिकारी दूधाधारी मठ भी गए, जहाँ महंत श्यामसुंदर दास ने मंदिर के ऐतिहासिक पृष्ठभूमि से अवगत कराते हुए मंदिर दर्शन कराया।

इस हेरिटेज वॉक में मोर रायपुर क्लब दुर्गा कॉलेज की प्रोफेसर सुनीता चंसोरिया, आभास फांउडेशन के राजीव चक्रवर्ती, राहुल खस्तगीर सहित स्मार्ट सिटी व रायपुर नगर निगम के अधिकारी भी उपस्थित थे।

Back to top button