चैत्र नवरात्र- 6 से 14 अप्रैल तक भूलकर भी नहीं करें ये काम

फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथी (6 से 14 अप्रैल 2019) से चैत्र नवरात्र का शुभारंभ होगा, इन नौ दिनों तक आद्यशक्ति मां दुर्गा की विशेष पूजा आराधना की जाती हैं । देश के कोने कोने में आस्था व श्रद्धा का माहौल दिखाई देता है । लोग उपवास रखते है, माता का सोलह श्रंगार करते हैं, हर दूसरा व्यक्ति अलग अलग तरीके से पूजा भी करते, कन्याभोज कराते हैं।

लेकिन इन सब के बाद अगर नवरात्र के दिनों में कुछ ऐसे काम है जिन्हें करना निषेध माना जाता हैं अगर भूलवस ये कार्य हो जाये तो माता से क्षमा याचना करके प्रायश्ति किया जा सकता हैं। प्रायश्ति स्वरूप मां दुर्गा के बीज मंत्र का नवरात्र के आखरी दिन 251 बार जप करना चाहिए।

नवरात्र में इन कामों को करने से बचें

1- नवरात्र प्रतिपदा से लेकर एकादशी तिथि तक अपने नाखूनों को बिलकुल भी नहीं काटे ।

2- नवरात्र के दिनों में अपने बाल भी नहीं कटवाना चाहिए ।

3- नवरात्रि काल की इस शुभ अवधि में सिलाई-बुनाई का काम भी नहीं करना चाहिए ।

4- नवरात्र की इस विशेष अवधि में किसी निंदा भी नहीं करना चाहिए, झूठ नहीं बोलें एवं मुधभाषी बने रहे ।

5- प्रयास करें की नवरात्र के नौ दिनों तक सूर्यास्त के बाद घर में झाड़ू नहीं लगाएं, या कम से कम पूजा घर और रसोई में नहीं लगाने का प्रण ले ।

6- नौ दिनो तक यदि संभव है तो घर में चप्पल मत पहनो या पूजा कक्ष में चप्पल पहन कर प्रवेश करने से बचो, चमड़े से बनी वस्तुओं का भूलकर भी प्रयोग ना करे ।

7- नवरात्र के नौ दिनों तक शराब, मांस, तंबाकू जैसी अन्य पदार्थों का सेवन नहीं करें ।

8- नवरात्र के नौ दिनों तक किसी भी महिलाओं का अपमान नहीं करें।

Back to top button