चक्रधरनगर पुलिस की मेहनत लाई रंग, मां से बिछुड़ी 02 साल की बच्ची 24 घंटे के भीतर मिली अपनी मां से

हिमालय मुखर्जी ब्यूरो चीफ रायगढ़

● लापता बच्ची की तस्वीर व्हाटसअप ग्रुप में देखी तब थाने पहुंची बच्ची की मां….

रायगढ़: माता-पिता से बिछुड़ी 02 साल की बच्ची को जल्‍द से जल्द उसके परिजनों से मिलाने चक्रधरनगर पुलिस, ग्राम रक्षा समीति के सदस्यों और रायगढ़ मीडिया के जिम्मेदार लोगों की मेहनत रंग लाई , जिससे बच्ची गुम होने के दूसरे ही दिन अपनी मां के पास सुरक्षित पहुंच गई ।

जानकारी के अनुसार कल दिनांक 07/06/2021 को थाना चक्रधरनगर अर्न्तगत ग्राम जुर्डा से जगदेव नाम का व्यक्ति सीएसपी रायगढ़ को लगभग दो साल की बच्ची गांव के पानी टंकी के पास अकेली मिलने की सूचना दिया ।

सीएसपी द्वारा चक्रधरनगर स्टाफ को जुर्डा जाकर बच्ची के माता-पिता की पतासाजी कर उन्हें सुपुर्द करने निर्देशित किया गया । थाने से प्रधान आरक्षक सतीश पाठक, श्याम लाल महंत, आरक्षक सुशील यादव, संदीप मिश्रा ग्राम जुर्डा पहुंचे ।

बच्ची को साथ लेकर पुलिस स्टाफ ग्राम जुर्डा, पहाड मंदिर, कौंहाकुंडा, पंडरीपानी उसके माता-पिता की पतासाजी किये, पता नहीं चलने पर सभी गांवों में पुलिस द्वारा बनाये गये ग्राम रक्षा समीति के सदस्यों को बच्ची का फोटो उनके सभी व्हाटसअप ग्रुप में डालने तथा कोई जानकारी मिलने पर चक्रधरनगर को सूचित करना बताकर थाना लौटे ।

थाने में बच्ची को चाय नाश्ता कराने के बाद उसका डॉक्टरी परीक्षण, कोविड टेस्ट कराकर मातृ निलियम रायगढ में सुरक्षार्थ रखवाया गया । वहीं एडिशनल एसपी द्वारा सभी थानों के व्हाट्सएप ग्रुप एवं सीमावर्ती जिलों में भी बच्ची के फोटोग्राफ्स भेजने पुलिस कन्ट्रोल रूम को निर्देशित किया गया ।

सभी थानों से प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया को भी उनके ग्रुप्स में बच्ची का फोटो वायरल करने कहने पर सभी अपने ग्रुप में फोटो वायरल किये । आज सुबह बच्ची की मां खुशबू सोनवानी एक व्हाटसअप ग्रुप में बच्ची का फोटो देखी तो सीधे थाना चक्रधरनगर पहुंची ।

चक्रधरनगर पुलिस द्वारा बाल कल्याण समिति रायगढ़ के समक्ष उसके माता-पिता व पहचानकर्ता वार्ड पार्षद श्री मुरारी भट्ठ को उपस्थित कराया गया, जहां बाल कल्याण अधिकारी द्वारा बच्ची को उसकी मां के सुपुर्द किया गया है ।

बच्ची की मां बताई कि दिनांक 07.06.2021 को पहाड़ मंदिर की ओर कबाड़ी समान बीनने गई थी । वह कबाड़ी सामान उठा रही थी और पीछे-पीछे इसकी बेटी (जिया सोनवानी पिता अजय सोनवानी उम्र 2 साल) पैदल-पैदल आ रही थी । कब जिया रास्ता भटक कर जुर्डा पहुंच गई, इसे नहीं मालूम । यह पहाड़ मंदिर तरफ खोजबिन की थी, रात होने पर घर चली गई । आज सुहब दूसरे के मोबाइल पर बच्ची का फोटो देखी, तब वे चक्रधरनगर थाना जाने को बाले तो थाना पहुंची । जागरूक लोगों के सोशल मीडिया के सदउपयोग से गुम हुई बच्ची जल्द ही उसके मां से मिल पाई ।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button